Shivpuri News- छत्री जैन मंदिर में चोरी, भगवान आदिनाथ और शांतिनाथ की अष्टधातु की मूर्तियां गायब

शिवपुरी।
शिवपुरी शहर के बीचो बीच बना जिनालय छत्री जैन मंदिर में बीती रात चोरों ने बडी वारदात को अंजाम दिया है। चोर मंदिर से अष्टधातु की 2 मुर्तिया व चांदी के छत्र चुरा ले गए। चारो ने इस वारदात को अंजाम देकर देहात थाना पुलिस को चुनौती दी है। यह मंदिर शहर के गुरुद्वारा चौक पर स्थित है। मंदिर में 7 कैमरे लगे है। चोर 2 कैमरे में कैद हुए है। चोर सुभाष मार्केट की ओर से मार्केट की छत से कूदकर मंदिर में घुसे है और मंदिर के पीछे की ओर सावरकर उद्यान की ओर बाउंड्री फलांग कर बाहर निकले है। कैमरा में दो चोर दिखाई दे रहे बाकी इनकी संख्या अधिक होने का अनुमान है।

जानकारी के अनुसार दिगंबर जैन छत्री मंदिर में बीती रात चोरों ने ऑटो पार्ट्स वाली गली सुभाष मार्केट की किसी दुकान की छत से कूदकर मंदिर में प्रवेश किया हैं। मंदिर में बने शांतिनाथ जिनालय की शटर को उखाड़ कर उसमें प्रवेश किया है और भगवान आदिनाथ और भगवान शांतिनाथ की अष्टधातु की 9-9 इंच की मूर्तियों को चुरा लिया। शांतिनाथ जिनालय में भगवान शांतिनाथ की पाषाण की प्रतिमा है इस प्रतिमा में शांतिनाथ,कुंथुनाथ अरहनाथ खडगासन की मुद्रा में है।

इसी पाषाण के प्रतिमा के दोनो ओर कांच के दो मंदिर बने थे इस प्रतिमा की दोनो ओर बने कांच के मंदिरों में एक ओर भगवान आदिनाथ और भगवान शांतिनाथ की अष्टधातु की 9-9 इंच की 2 प्रतिमा विराजमान थी,जिनकी प्राण प्रतिष्ठा वर्ष 2008 में पंचकल्याणक के समय की गई थी। बताया जा रहा है कि इन प्राण प्रतिष्ठित इन मूर्तियों की चमक अधिक होने के कारण यह सोने जैसी चमकती थी और आकार छोटा होने के कारण इन मूर्तियों को सोने की समझ कर चोर इन्हें चुरा ले गए।

मंदिर में 7 कैमरे, मंदिर परिसर में माली का परिवार और 2 थाने की पुलिस

गुरुद्वारा चौराहा पुलिस के सीसीटीवी कैमरों से लैस है। इस चौराहे पर ज्यादातर पुलिस की तैनाती रहती है साथ ही इस क्षेत्र में रात के समय दो थानों की पुलिस भी गश्ती करती है। मंदिर में 7 कैमरे लगे है और पुरानी शिवपुरी की ओर से मंदिर में जाने वाले गेट के समीप ही मुन्ना माली का परिवार निवास करता है। आज सुबह साढ़े पांच बजे प्रतिदिन की तरह मंदिर के पट खोलने मुन्ना माली गया तो उसे शांतिनाथ जिनालय की शटर टूटी दिखी और उसने अंदर जाकर देखा तो जिनालय से दो मूर्ति गायब थी।

सिंहासन छोड़, छत्र और दानपात्र के पैसे भी ले गए चोर

चोर ने मंदिर के दानपात्र के ताले को तोड़कर अपने साथ दान पात्र में रखे हजारों रुपए भी अपने साथ ले गए। चोरी की गई मूर्तियां चांदी के सिंहासन पर विराजमान थी चोर सिंहासन को छोड गए और छत्र ले गए। कैमरे में चोर रात ढाई बजे के समय कैद हुए है मंदिर में चोर काफी देर तक रुके और बेखौफ घूमते हुए सीसीटीवी कैमरे में नजर आए है। चोरो ने जिस रास्ते को बहार निकलने के लिए चुना वह रास्ता बहुत ही कम लोगों ने देखा है। उस ओर कमरे बने है जिसमें जैन संतों का निवास स्थान बनाया जाता है इससे अनुमान लगाया जा रहा है कि चोर स्थानीय हो सकते है।