निर्वाचन कार्य में कक्ष के अंदर गोपनीयता नहीं रखने वाले 1 दर्जन शिक्षक सस्पेंड,पढिए नाम- Shivpuri News

शिवपुरी। जिला निर्वाचन अधिकारी ने खनियाधाना जनपद पंचायत के रिटर्निंग आफिसर की रिपोर्ट पर आधा दर्जन शिक्षकों को चुनाव कार्य में लापरवाही बरतने के चलते निलंबित कर दिया है। उल्लेखनीय है कि 28 जून को खनियाधाना जनपद पंचायत में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के क्रम में मतदान हुआ था।

मतदान के दौरान सरकारी कर्मचारियों की ड्यूटी चुनाव कार्य में लगाई गई। निर्वाचन कार्य में लापरवाही बरतने पर तहसीलदार एवं रिटर्निंग ऑफिसर, जनपद पंचायत खनियाधाना शिक्षक अनिल कुमार शर्मा माशि शामावि बामौरकलां, नंद गोपाल नामदेव प्राशि राप्रावि मनईतला, महेंद्र सिंह दांगी प्राशि शाप्रावि मनपुरा, मुकेश कुमार यादव उच्च माशि शास माडल उमावि खनियाधाना, अनुपम रावत सहा. शिक्षक शाप्रावि माताटीला, मुकेश कुमार पटैरिया उच्च मा शिक्षक शाउमावि बामौरकलां के खिलाफ प्रतिवेदन तैयार कर रिपोर्ट जिला निर्वाचन अधिकारी एवं कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह को भेजी।

निलंबन आदेश में उल्लेख है कि संबंधितों द्वारा प्रथम चरण की मतगणना समय पर पूर्ण न करके इनके द्वारा निर्वाचन जैसे महत्वपूर्ण कार्य में घोर लापरवाही करते हुए मतगणना पार्टी एवं एआरओ तथा एजेंटों से अभद्रता पूर्वक व्यवहार किया गया, साथ ही कार्य के दौरान कक्ष के अंदर गोपनीयता नहीं रखी गई।

निर्वाचन कार्य संबंधी सौंपे गये पदीय दायित्वों एवं कर्तव्यों के निर्वहन में लापरवाही बरतने का दोषी पाए जाने पर मध्यप्रदेश सिविल सेवा करण नियंत्रण एवं अपील) नियम, 1966 के नियम 9 के तहत तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाकर मुख्यालय कार्यालय जिला शिक्षा अधिकारी, जिला शिवपुरी में सम्बद्ध किया,जाता है। निलंबन अवधि में नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता रहेगी यह आदेश तत्काल प्रभावशील होगा।

इनका कहना है
आज प्रशासन द्वारा शिक्षकों को निलंबन कर चुनाव कार्य में लापरवाही बरतने व मतगणना में विलंब का कारण दर्शाते हुए की गई कार्रवाई अनुचित है। इसका राज्य शिक्षक संघ विरोध करता है, जबकि जिले के समस्त कर्मचारी जी जान से निर्वाचन कार्य में जुटे हुए हैं।
स्नेह रघुवंशी,कर्मचारी नेता