बच्चों को तराशने का कार्य शिक्षक का होता है: जिला पंचायत CEO - Shivpuri News

शिवपुरी।
निपुण भारत के अंतर्गत मिशन अंकुर कार्यक्रम में कक्षा 1 एवं 2 में अध्यापन कराने वाले शिक्षकों का 5 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम के द्वितीय बेच के प्रारम्भिक सत्र का शुभारंभ आज जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी की अध्यक्षता में किया गया।

शासकीय मॉडल उ.मा.विद्यालय शिवपुरी में आयोजित कार्यक्रम में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री मरावी द्वारा सत्र का शुभारंभ माँ सरस्वती पर दीप प्रज्वलन कर किया गया। इस अवसर पर मॉडल प्राचार्य विनय गोपाल बहरे सहित अन्य शिक्षकगण उपस्थित थे।

जिला पंचायत सीईओ श्री मरावी ने प्रारम्भिक सत्र में शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि जिस तरह कुम्हार गीली मिट्टी को पीट-पीट कर एक घड़े का निर्माण करता है, आपका भी बही दायित्व है कि बच्चों को अच्छे तरीके से अध्यापन कराकर उन्हे श्रेष्ट नागरिक बनाएं। आपका दायित्व किताबों तक सीमित न हो आप उन्हे सामाजिक ओर नैतिक दायित्व भी सिखाएं।

उन्होंने कहा कि आज भी जब पुराने शिक्षक कहीं पर दिख जाते है तो मैं चरण बंदन करने से नहीं चूकता”, उनके शानदार अध्यापन और दिए गए संस्कारों के कारण में इतने बड़े पदीय दायित्व का निर्वहन कर रहा हूँ।

आप भी पूरी ईमानदारी के साथ बच्चों का भविष्य बनाने में कुम्हार जैसी रूपरेखा दिखाएं। उन्होंने कहा कि सभी शिक्षकों को प्रणाम करता हूँ, दूसरे चरण में बीआरसीसी अंगद सिंह तोमर ने बताया कि इस चरण में 80 शिक्षकों को प्रशिक्षण दिया जाना था, जबकि 70 शिक्षक उपस्थित रहे। अनुपस्थित शिक्षकों को कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया जाएगा।