भाडे में कमीशन का खेल: समीप के गोदाम खाली फिर भी गेंहू 120 किमी दूर परिवहन किया जा रहा है - Pichhore News

शिवुपरी। जिले में समर्थन मूल्य खरीदी के गेंंहू में कमीशन के चक्कर में भाडे का खेल खेला जा रहा है। कमीशन के चक्कर में 60 लाख रूपए सरकारी रूपयो का नुकसान किया जा रहा हैं। अगर नियम तोडते इस परिवहन को अवैध है तो फिर 60 लाख रूपए की भरपाई कौन करेगा यह सवाल बडा हैं।

आपने सुना होगा और खबरा में पढा होगा कि किसानो की उपज का पैसा समय पर नही दे पा रही हैं। ऐसे में अधिकारी अपने कमीशन के चक्कर में सरकार के लाखो रूपए भ्रष्टाचार की भेट चडा देते हैं इसका जीता जागता उदाहरण हमारे समाने आया है।

पिछोर व खनियांधाना ब्लॉक में चल रही समर्थन मूल्य खरीदी का गेहूं नजदीक के गोदामों में भरने के सरकार के स्पष्ट निर्देश हैं। लेकिन मप्र स्टेट सिविल सप्लाई कॉर्पोरेशन शिवपुरी ने पिछोर के गोदामों से उपार्जन केंद्रों की मैपिंग हटाकर 90 से 120 किमी दूर शिवपुरी के गोदाम पर कर दी है।

गोदाम संचालक ने मामले में सिविल सप्लाई कॉर्पोरेशन के एमडी को लिखित शिकायत की है। ट्रांसपोर्टर को फायदा पहुंचाने के लिए उपार्जन केंद्रों की मैपिंग हटाकर लंबी दूरी के गोदामों पर परिवहन शुरू करा दिया है। जिससे ट्रांसपोर्टर को ज्यादा भाड़ा दिलाने की कोशिश की जा रही है।

जुंगीपुर गोदाम के प्रतिनिधि संतोष कुमार का कहना है कि बुधवार और गुरुवार को 14 उपार्जन केंद्रों की मैपिंग एकाएक हटाकर जिला मुख्यालय के पीजी गाेदाम पर कर दी है। जिससे ट्रांसपोर्टर द्वारा लंबी दूरी पर परिवहन कर दो से ढाई हजार टन गेहूं परिवहन किया जा चुका है। जबकि जुंगीपुर पर 7 से 8 हजार टन गोदाम खाली है।

लंबी दूरी की वजह से प्रति क्विंटल 80 हजार रु. का अंतर आ रहा है जिससे 60 लाख से अधिक का नुकसान शासन को भाड़े के रूप में हो रहा है। इस नुकसान के लिए जिला प्रबंधक व संबंधित ट्रांसपोर्टर जिम्मेदार है। नुकसान की भरपाई भी इन्ही लोगों से की जाए। मामले की शिकायत महाप्रबंधक परिवहन, महाप्रबंधक उपार्जन भोपाल, क्षेत्रीय प्रबंधक ग्वालियर और कलेक्टर से की है।

आधिकारिक बयान
एफसीआई की रैक लगने से पीजी गोदाम खाली हो गया है। अनुबंध के तहत खाली गोदाम का भी किराया लगता है। इसलिए हमारी प्राथमिकता पीजी गोदाम में गेहूं भंडारण की है। पिछोर-खनियांधाना के उपार्जन केंद्रों की मैपिंग हटाकर पीजी गोदाम पर की है। पोहरी, कोलारस व शिवपुरी में खरीदे जा रहे गेहूं का भंडारण नजदीक के गोदामों पर हो रहा है। 
एसएन माहेश्वरी, जिला प्रबंधक, मप्र सिविल सप्लाई कॉर्पोरेशन जिला शिवपुरी