गुरूवार को कोरोना ZERO: अगस्त का पॉजिटिविटी रेट 8.24% रहा ,मप्र के न्यूतम 2% से 4 गुना अधिक

शिवपुरी। गुरूवार को कोरोना का ग्राफ जीरो रहा है कारण गुरूवार को एक भी जांच रिर्पोट नही आई ना ही मेडिकल कॉलेज से और न ही ग्वालियर से। बताया जा रहा हैं कि मेडिकल कॉलेज में जांच रिर्पोट खत्म हो गई और जानकारी के अभाव में ग्वालियर सैंपल देरी से भेजे थे।

जैसा कि विदित हैं कि मप्र मे कोरोना मरीजो की पॉजीटिव मरीजो न्यूतम आंकडा 2 प्रतिशत हैं,अगर शिवपुरी के अगस्त माह के आंकडो पर नजर डाली जाए तो यह आंकडा मप्र के न्यूतम आंकडे से 4 गुना से भी अधिक हैं। स्वास्थय विभाग से जारी हैल्थ बुलेटिन की माने तो 1 अगस्त से 12 अगस्त तक 2231 लोगो की जांच कराई हैं इनमें से 184 मरीज पॉजीटिव निकले हैं अगर इसका प्रतिशत निकाले तो 8.24 प्रतिशत होता है।

31 जुलाई तक 303 मरीज जिले में पॉजीटिव थे और वही 22 मार्च से लेकर 30 जून तक शिवपुरी में पॉजीटिव मरीजो को आंकडा 50 के पार भी नही था। जून माह की शादियों के कारण अब कोरोना पॉजीटिवो की संख्या में जुलाई मेे विस्फोट हो गया था। यह प्रशासन की बडी ही निगरानी थी कि वह शादियो की परमिशन देकर मानिरिटिग नही की गई।

देश में शायद शिवपुरी ऐसा जिला होगा जहां मैरिज शादियो के लिए मैरिज हाउस तक खुल गए थे और 50 की परमिशन में 500 लोग पहुंच गए। शादियो की कोई मानिरिटिग ग्रह मंत्रालय के आदेशा के हिसाब से नही की गई जिसके परिणाम शिवपुरी वासी झेल रहे हैं।

अब हालात आप समान्य नही कह सकते हैं। शिवपुरी में कोरोना मरीजो का आंकडा तेजी से बड रहा हैं कोरोना अब समाजिक हो चुका हैं। गुरूवार को स्वास्थ्य महकमें ने 214 सेंपल लिए हैं । जो जांच के लिए ग्वालियर भेजे गए हैं। वुधवार को 329 सेंपल लिए थे। इस तरह 543 जांच सैंपलो का आज परिणाम आ सकता हैं। जो किसी भी विस्फोट से कम नही होगा।