पोहरी में गरजी हिटैची, दो दर्जन मकान और दुकान तोडे | pohri news

शिवपुरी। एंटी माफिया मुहिम के तहत पोहरी में आज सुबह मैन चौराहा बाजार में अतिक्रमण विरोधी मुहिम चलाई गई। जिसमें एक दर्जन मकानों और दुकानों के कई फिट अतिक्रमण तोड़े गए। मौके पर प्रशासन को हल्का-फुल्का विरोध का भी सामना करना पड़ा लेकिन मौके पर बड़ी संख्या में पुलिस बल होने के कारण अतिक्रामक उग्र नहीं हो सके। कार्रवाई के दौरान एसडीएम पल्लवी वैध, तहसीलदार ओपी राजपूत, आरआई प्रीति रावत सहित प्रशासनिक अमला व पुलिस मौजूद रही। सुबह 12 बजे से कार्रवाई प्रारंभ की गई, जो लगातार शाम तक चलती रही। उसके बाद शाम होने पर उक्त कार्यवाही को रोका गया।

अतिक्रमण विरोध अभियान का आगाज जगदीश मंगल के तीन मंजिला मकान से किया गया। जिसमें मकान मालिक ने पांच फिट का अतिक्रमण कर लिया था। हिटैची ने तीन मंजिल मकान के उस पांच फिट के अतिक्रमण को तोड़ दिया। जिससे मकान की नींव हिल गई। वहीं अशोक गुप्ता के तीन मंजिला मकान पर भी जेसीबी चलाई गई। मकान के पिलर और ऊपर के छज्जे को तोड़ दिया गया। इसके बाद हिटैची आगे बढ़ी और कई दुकानों के चबूतरे और छज्जे तोड़ दिए।

इस दौरान करीब दो दर्जन दुकानों को हटाया गया है। जिसमें विवेक मंगल,अशोक गुप्ता,विष्णु गुप्ता,कल्याण शर्मा,आशीष मित्तल,वीरेन्द्र जैन,लक्ष्मण जैन,दिनेश गुप्ता,टिंकल सोनी,राजेश नामदेव,दौलत सिंह धाकड,पूरन नामदेव,पिंकी दुबे,केशब जैमनी,शसी महाजन,अनेक सिंह तोमर और  प्रबीण शिवहरे के अतिक्रमण को जमींदोज किया। यह कार्यवाही पोहरी चौराहे से आदर्श बंधु स्कूल तक की गई। उसके बाद शाम होने के चलते प्रशासन की जेसीबी बापिस लौट आई।

शिवपुरी रोड़ के अतिक्रामकों को जारी किए नोटिस

पोहरी मैन चौराहे से शिवपुरी रोड़ पर किए गए अतिक्रामकों को प्रशासन ने नोटिस जारी कर अतिक्रमण हटाने का निर्देश दिया है। अतिक्रामकों को अपने-अपने अतिक्रमण हटाने के लिए 16 जनवरी की मोहलत दी है। नोटिस में उल्लेख किया है कि अगर तय समय में उन्होंने अतिक्रमण नहीं हटाए तो प्रशासन बलपूर्वक हिटैची से उक्त अतिक्रमणों को तोड़ देगी, जिसका हर्जा खर्चा अतिक्रामकों से वसूल किया जाएगा।

अतिक्रमण मुहिम के दौरान बिजली का तार जेसीबी में फंसने से सडक़ पर गिरा विद्युत पोल

पोहरी बाजार में अतिक्रमण हटाने के दौरान बिजली लाईन का तार जेसीबी में फंस जाने से वहां लगा विद्युत पोल उखडक़र जमीन पर गिर गया। इस दौरान आसपास बड़ी संख्या में लोग मौजूद थे। लेकिन सुखद पहलू यह रहा कि कोई भी इस खंबे की चपेट में नहीं आया। लोग खंबे को हिलते हुए देखकर वहां से इधर उधर हो गए। जिससे एक बड़ी घटना घटित होने से बच गई। हालांकि विद्युत विभाग ने अतिक्रमण हटाने के दौरान बिजली सप्लाई बंद कर दी थी।