SHIVPURI NEWS - लुटेरी बहनों ने मचाया शिवपुरी में बबाल, लड़कों की दुल्हनियां बनकर उनको फंसाती है

Bhopal Samachar

शिवपुरी। खबर शिवपुरी शहर के पुलिस अधीक्षक कार्यालय से मिल रही हैं जहां आज एक पीड़ित युवक ने बताया कि मेरे साथ बहुत बड़ी धोखाधड़ी हुई हैं मुझे मेरे ही मिलने वाले ने लड़की को शर्मा बताकर मेरी शादी करवाकर मुझे मूर्ख बनाया। युवक ने बताया कि मुझे पिछोर के रहने वाले एक पंडित ने फंसाया कि एक अच्छी लड़की है उससे तू शादी कर सकता हैं। और कहा था कि मेरी लड़ाई हैं मुझे दूर रखना, जिसके बाद मैंने कहा ठीक हैं दिखाओ लड़की को, तो मैंने लड़की को देखा और शादी फिक्स हो गई।

जिसके बाद मुझे पता चला कि लड़की के यहां से पहली बारात वापस चली गई थी, मैंने उनसे इसका कारण पूछा तो मुझे बताया गया था कि लड़के को मिर्गी आ गई थी इसलिए हमने बारात लौटा दी थी। शादी के बाद लड़की मेरे साथ 10 दिन रही और उसके बाद 4 लाख रुपये और जेवर लेकर फरार हो गई और अब उसने मुझ पर झूठा केस भी दर्ज करवा दिया हैं।

जानकारी के अनुसार निवासी पिछोर के रहने वाले भुवनेश तिवारी पुत्र स्व. नीरज कुमार तिवारी ने बताया कि मेरी शादी पिछोर के खांडी की दीवानजी कॉलोनी के रहने वाले अनुज शास्त्री ने बताया कि उत्तर प्रदेश में एक लड़की हैं गौरी शर्मा उससे तुम शादी कर लो अच्छी लड़की हैं जिसके पिता का नाम दिनेश शर्मा हैं तो मैंने कहा कि ठीक हैं कर लेता हूं। फिर मैंने लड़की देखी और शादी तय हो गई, मुझे कुछ दिनों बाद पता चला कि जिस लड़की से मेरी शादी फिक्स हुई हैं उसकी पहले शादी हो चुकी हैं।

तो मैंने पता किया कि तो उसके घरवाले बोले की नहीं ऐसा कुछ नहीं था शादी नहीं हुई, बल्कि लड़के को मिर्गी आ गई थी इसलिए हमने अपने द्वार के बारात लौटा दी थी। तो मैंने उनकी बात मान ली और बारात 18 फरवरी 2024 को उत्तर प्रदेश के बार गांव लेकर पहुंचा जिसके बाद मेरी शादी गौरी से हो चुकी थी। गौरी मेरे साथ केवल 10 दिन मुश्किल से रुकी होगी। और उसके बाद अपने मायके उत्तर प्रदेश चली गई।

जिसके बाद मैंने उसके पिता दिनेश को कॉल दिया तो उसने बताया कि तुम मेरी बेटी के साथ मारपीट करते हो उसे परेशान करते हो तो मैंने कहा कि नहीं ऐसा कुछ भी नहीं हैं फिर गौरी मेरे पास आई और 4 लाख रुपये और गहने चुराकर फरार हो गई। जिसके बाद मैंने गौरी के बारे में पता किया तो उसके पिता दिनेश शर्मा, शर्मा नहीं जोशी हैं और गौरी के भी कई नाम सामने निकलकर आये।

तथा मैंने अपने हनीमून के लिए ट्रिप तैय किया और उसके लिए मैंने उसका आधार कार्ड मांगा तो मुझे पता चला कि उसका नाम गौरी के अलावा, प्रियंका प्रिया, दीपिका सागर हैं। तो मैंने उनसे पूछा कि तुम लोगों ने मेरे साथ यह सब क्या किया है मुझे इतना बड़ा धोखा दिया हैं। जिसके बाद लड़की का नंबर ही बंद जाने लगा।

मैंने इन लोगों के विषय में जानकारी ली तो पता चला कि यह 50 लोगों का गिरोह है,इस गिरोह में पिछोर का अनुज शर्मा और दिनेश जोशी भी शामिल हैं और यह लोग उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं और 6 भाई बहन हैं जिसमें से 3 बहन और 3 भाई हैं। जो कि लोगों को फंसाने का ही काम करते हैं। और इसी प्रकार इन्होंने कई लोगों को फंसाया हैं और हाल ही शिवपुरी के एक परिवार को फंसाने वाले हैं। यह तीनों लड़कियों का यूज करके लोगों को फंसाते हैं और गौरी की बड़ी बहन की भोपाल में एक लड़के को फंसा कर वहां से ग्वालियर चली गई दूसरे को फंसाने के लिए और अब एक छोटी बहन शिवपुरी के लड़के को फंसाने वाली हैं।

इसके साथ ही गौरी का भाई अपने आप को उत्तरप्रदेश का डॉन बताता हैं कहता हैं कि मैं तुम्हारे यहां के एसपी और कलेक्टर को तक हिलाने की दम रखता हूं, और साथ ही इन लोगों ने 10 लाख की मेडीकल खोली हैं और हॉस्पिटल बनवा रहे हैं यह पूरी एक 50 लोगों की गैंग हैं जो की अच्छे लड़कों को फंसाते हैं।
G-W2F7VGPV5M