शराब के नशे में पड़ोसी के सिर पर पटक दिया पत्थर- मौत- kolaras News

कोलारस।
खबर जिले के कोलारस नगर से आ रही है कि कोलारस के गुदरी मोहल्ला में रहने वाले एक 60 वर्षीय बुजुर्ग के सिर पर पत्थर पटक पटक कर हत्या उसके पड़ोसी ने ही कर दी। घटना रात 10 बजे की बताई जा रही है। इस मामले में सामने आया है कि इस घटना के समय कई पड़ोसी थे और कोई बालकनी से कोई घर के बाहर से देख रहा था लेकिन मोहल्ले में रहने वाले इस बुजुर्ग को बचाने कोई नहीं आया।

जानकारी के अनुसार कोलारस की गुदरी मोहल्ले में रहने वाले लक्ष्मण वर्मा उम्र 60 रात 10 बजे अपने घर था,तभी रात में घर के सामने ही रहने वाले धन्नू सोनी पुत्र रामदयाल सोनी उम्र 34 साल शराब के नशे में आया और मोहल्ले में आकर गाली ग्लौच करने लगा। लक्ष्मण वर्मा बहार निकले और धन्नु सोनी को गाली गलौच करने से मना करने लगा,लेकिन धन्नु शराब के नशे में बहस करने लगा।

बताया जा रहा है बुजुर्ग लक्ष्मण ने उसे समझाने का प्रयास किया लेकिन शराब के नशे में धन्नु सोनी और उग्र हो गया,कही से लाठी ले आया ओर बुजुर्ग पर लगातार प्रहार कर दिए जिससे बुजुर्ग बेसुध होकर जमीन पर गिर पडा,उससे भी धन्नु का मन नही भरा उसने लक्ष्मण के सिर पर पत्थर पटक दिया। घायल लक्ष्मण को परिजन कोलास अस्पताल लेकर गए जहां उसकी गंभीर हालत के चलते उसे शिवपुरी अस्पताल रेफर कर दिया। बताया जा रहा है कि गंभीर घायल लक्ष्मण की मौत शिवपुरी इलाज के दौरान देर रात हो गई।

पड़ोसी बने तमाशबीन, खड़े रहे घर के बाहर

बताया जा रहा है कि गुदरी मोहल्ले में रहने वाले कई लोग जब ही घरो से बाहर निकल आए थे जब धन्नु सोनी लक्ष्मण को गाली दे रहा था दोनो में बहस हो रही थी,उसकी मारपीट कर रहा था कोई भी लक्ष्मण को बचाने नहीं आया,सभी पड़ोसी तमाशबीन बने थ। धन्नु सोनी लक्ष्मण की हत्या करने के बाद फरार बताया जा रहा है।

आए दिन झगडा करता था धन्नु सोनी

बताया जा रहा है कि धन्नु सोनी प्रतिदिन शराब के नशे में पडोसी से झगडा करता था। धन्नु सोनी सोने चांदी का काम करता था। लेकिन जब से उसने शराब पीना शुरू कर दी थी जब से उसने काम धंधा बंद कर दिया था।

दर्जी का काम और किराने की दुकान चलता था मृतक

जानकारी मिल रही है कि मृतक लक्ष्मण वर्मा गोपाल गली कोलारस में दर्जी का काम करता था और छोटी सी दुकान चलता था। उसके तीन बेटे है लेकिन उसके साथ उसका बड़ा बेटा उसके साथ ही रहता था। घटना के समय उसका बड़ा बेटा घर में ही सो रहा था।