एकता मशाल यात्रा: कन्याकुमारी से दिल्ली जा रही यात्रा 50 किमी प्रतिदिन दौड़ रही हैं- Shivpuri News

शिवपुरी।
20 नवंबर 2022 को कन्याकुमारी से एकता मशाल यात्रा शुरू हुई जो 26 जनवरी 2023 को दिल्ली पहुंचकर 3 हजार किमी की यात्रा पूर्ण करेंगी। 8 जनवरी को एकता मशाल यात्रा के 50वें दिन सुबह 7 बजे प्राचार्य शासकीय महाविद्यालय गुना डॉ वीके तिवारी एवं डी कंपनी के कैप्टन मनोज कुमार ने वीर महाराज मंदिर बाईपास रोड गुना से दौड़ के मुख्य धावक कर्नल के एस बुधवारा ;सेना मेडलद्ध को मशाल सौंप कर अगले पॉइंट ईश्वरी बदरवास के लिए रवाना किया।

आजादी के 75 साल पूरे होने के उपलक्ष्य में कन्याकुमारी से नई दिल्ली तक मशाल यात्रा की शुरुआत की है यह दौड़ 60 दिनों में कुल 3 हजार किलोमीटर की दूरी करेगी। डीजी एनसीसी एवं रक्षा मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देश एवं 35 बटालियन एनसीसी शिवपुरी के कमान अधिकारी कर्नल सुदीप्ता घोष, एडम अधिकारी अंचल कुमार, एसएम जयराम जाट के मार्गदर्शन में कार्यक्रम का आयोजन किया गया

एकता मशाल यात्रा के प्रमुख धावक कर्नल केएस बुधवारा ;सेना मेडल एवं उनकी टीम के सहयोगी कर्नल डीएस मलिक, कर्नल एएन झा, रन डायरेक्टर रवि कुमार का 35 वीं वाहिनी एनसीसी शिवपुरी के निर्देशन में एकता मशाल को कर्नल केएस बुधवारा ने आज की निर्धारित दौड़ समाप्त करते हुए तहसीलदार प्रदीप भार्गव, कोलारस के बीईओ रामनिवास जाटव को सौंपी ।

मुख्य अतिथि के रूप में ब्लॉक शिक्षा अधिकारी कोलारस रामनिवास जाटव ने इस कार्यक्रम में ध्वजारोहण की एवं कल्याण सिंह यादव ने कार्यक्रम का सहयोग करते हुए सभी गणमान्य अतिथियों का माल्यार्पण कर स्वागत किया।

कार्यक्रम का संचालन सेकंड ऑफिसर यशवंत शर्मा द्वारा किया गया। इस अवसर पर बटालियन के सूबेदार नरेंद्र कुमार, सूबेदार दिलीप, हवलदार बलवीर एएनओ एलके शर्माए कोलारस के एएनओ अरविंद जाटव एवं डी कंपनी गुना के कैडेट उपस्थित रहे। एकता मशाल यात्रा का उद्देश्य भारत के युवाओं में एकता जागृत करना व उनके अंदर कुछ बेहतर कर दिखाने की आग को प्रज्वलित करना है।