Shivpuri News- संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों ने सरकार को लिखे खून से भरे खत,आधी रोटी खाकर लडी जंग

शिवपुरी। प्रदेश में संविदा स्वास्थ्य कर्मियो का अपनी मांगो को लेकर आंदोलन तेज होता जा रहा हैं,अपनी 2 सूत्रीय मांगों को लेकर कर्मचारी अब झुकने के मूड में नहीं है धीरे धीरे यह आंदोलन और उग्र होता जा रहा है। शिवपुरी जिले के समस्त संविदा कर्मचारी हड़ताल पर चले गए और माधव चौक चौराहे पर धरने पर बैठे है। आज इन कर्मचारियों ने शिवपुरी विधायक और मप्र में कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया को खून से खत लिखे और शिवपुरी में स्थित मंत्री महोदय के कार्यालय ढोल नगाड़ों के साथ रैली के रूप में शहर की सडको से निकलते हुए गए और कार्यालय पर उपस्थित स्टाफ को यह खत सौंपे।

यह लिखा खत में
धरना स्थल पर धरने पर बैठे जिला संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के जिला अध्यक्ष विवेक पचौरी,कार्यकारी अध्यक्ष शेर सिंह रावत,सुनील जैन,कमल बाथम,सीपी जैन सहित कई संविदा स्वास्थ्य कर्मचारियों ने धरना स्थल पर ही सिरिंज से अपना खून निकलवाया और खून से भरे खत विधायक और मंत्री महोदय को लिखे,खत में लिखा था कि हम सब करोना काल में जान न्यौछावर करने वाले स्वास्थ्य कर्मी है नियमितीकरण को लेकर हड़ताल पर बैठे हैुं हमारी मांगे पूरी करो।

स्वास्थ्य कर्मियों के हड़ताल पर जाने से स्वास्थ्य व्यवस्था वेंटिलेटर पर
शिवपुरी जिले में 550 संविदा कर्मचारी हड़ताल चले गए हैं इससे जिले में 2 सैकड़ा से अधिक प्राथमिक केंद्र पर ताले लटके हैं। वही टीकाकरण, नसबंदी,ओपीडी,टेलीमेडिसिन,चेतना एप,अनमोल एप और पत्राचार तक के काम बंद हो चुके हैं। अगर यह धरना प्रदर्शन बंद नहीं हुआ और संविदा कर्मचारी अपने काम पर वापस नहीं लौटे तो आगे की स्थिति भयानक होती हैं और उधर संविदा कर्मचारियों का कहना है कि हमारी जब तक 2 सूत्री मांगे पूरी नही होगी जब तक हम वापस नहीं होगें। शिवपुरी जिले में पिछोर और खनियाधाना में संविदा स्वास्थ्य कर्मचारी धरने पर बैठे हैं यह कर्मचारी प्रतिदिन शिवपुरी नही सकते है इसलिए स्थानीय स्तर पर ही आंदोलन में भाग ले रहे हैं।