कोलारस में पिता की स्मृति में पुत्र ने कराया मुक्तिधाम का जीर्णोद्धार- kolaras News

कोलारस।
आमतौर पर लोग पूर्वजों की स्मृति में कहीं मंदिरों में दान करते हैं तो कहीं वृद्धों को खाना खिलाते हैं लेकिन कोलारस नगर के श्रीवास्तव परिवार ने पिता की स्मृति में मुक्तिधाम में कुछ नया कार्य करने का बीड़ा उठाया और बिना जन सहयोग के करीब दो लाख रुपए खर्च कर मुक्तिधाम का जीर्णोद्धार कराया।

पिता की स्मृति में कराया गया यह काम सामाजिक सरोकार से जुड़ा आदर्श उदाहरण बना गया है। कोलारस निवासी स्व: श्री कोमल प्रसाद श्रीवास्तव राजगढ़ वालों के देवलोक गमन के बाद उनके पुत्रों के मन में विचार आया कि पिता की याद में कोई ऐसा कार्य किया जाए जिससे कोई परमार्थ हो सके।ऐसे में उन्होंने कोलारस भडौता रोड स्थित मुक्तिधाम में 51000 रुपए की राशि से कार्य कराने का फैसला लिया था

लेकिन जैसे ही टीन शेड का विचार मन में आया तो उन्होंने करीब 2 लाख रुपए इस पुण्य कार्य में खर्च कर दिये। इस कार्य में पूरे सीसी पिलर्स के साथ चबूतरे का निर्माण कराया गया। जिसे टीन शेड के साथ दो संस्कार करने हेतु व्यवस्थित किया गया हैं। साथ ही सुविधा के लिए चबूतरे पर लोहे के गाटर भी लगाए गए हैं। जिससे सुविधापूर्वक से अंतिम संस्कार किया जा सके और लकडिय़ां भी कम लगें।

मन में विचार आया और लग गए काम में संजय श्रीवास्तव

संजय श्रीवास्तव ने बताया कि मन में ऐसा विचार आया कि अपने पिता की स्मृति में ऐसा कुछ काम किया जाए कि जिसमें कुछ सार्थकता हो। पहले उनके मन में नगर के भड़ौता रोड स्थित मुक्तिधाम में 51 हजार रुपए की राशि देने का विचार आया बाद में जब मुक्तिधाम में अतिरिक्त चबूतरा निर्माण की बात पता लगी तो उन्होंने यह कार्य करने की ठानी और मुक्तिधाम में एक अंतिम संस्कार स्थल का निर्माण कराया

जिसे पूरे सीसी पिलर्स के साथ चबूतरे के शेड में दो संस्कार करने हेतु व्यवस्थित किया गया हैं। इसलिए उन्होंने करीब दो लाख से अधिक राशि खर्च कर एक नये अंतिम संस्कार शेड का निर्माण कराया है। पिताजी की पुण्य स्मृति में किए गए इस कार्य से उनके परिजन बेहद खुश हैं।