भरपेट खाना भी नहीं देती स्टे पर अटकी अधीक्षिका, छा़त्राओं ने नीतू माथुर ADM से की शिकायत- Shivpuri News

शिवपुरी। आदिमजाति विभाग द्वारा संचालित छात्रावासों के जिला मुख्यालय पर ही हालात काफी गंभीर हैं यहां रहने वाली बच्चीयों को भरपेट भोजन भी नसीब नहीं हो रहा, तो ग्रामीण क्षेत्रों में क्या हालात होगें इसका अंदाजा आसानी से लगाया जा सकता है। 

शासकीय अनुसूचित जाति कन्या छात्रावास शिवपुरी की छात्राओं ने गुरुवार को अपर कलेक्टर से मुलाकात कर छात्रावास की अधीक्षिका पर उन्हें भूखा रखने सहित उन्हें रात में पढ़ाई न करने देने के साथ ही अभद्रता करने के आरोप लगाए हैं।

अनुसूचित जाति सीनियर कन्या छात्रावास की छात्राओं ने गुरुवार की दोपहर कलेक्ट्रेट पहुंचकर अपर कलेक्टर नीतू माथुर से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने छात्रावास की अधीक्षिका राजकुमार कोली पर आरोप लगाए कि वह उन्हें न तो भर पेट भोजन देती हैं और न ही नाश्ता ऐसे में उन्हें छात्रावास में भूखा रहना पड़ता है। इसके अलावा जब वह रात को पढ़ती हैं तो लाइट बंद कर दी जाती है।

यहां बताना आवश्यक होगा कि 29 अगस्त को ही आदिमजाति जिला संयोजक द्वारा छात्रावास अधीक्षिका को यहां से हटाकर आदिवासी बालक आश्रम डबिया स्थानांतरित किया जा चुका है उक्त आदेश के विरूध्द अधीक्षिका द्वारा स्टे ले लिया गया था जिसे खारिज किया जाप चुका है परंतु अब तक रिलीव नहीं हुई है। गुरुवार को छात्राओं द्वारा लगाए गए आरोपों की जांच हेतु अपर कलेक्टर नीतू माथुर ने आदिम जाति कल्याण विभाग के जिला संयोजक महावीर जैन को इस संबंध में छात्राओं की समस्या का निराकरण करने के निर्देश दिए। जिला संयोजक ने सभी छात्राओं के बयान दर्ज कर लिए हैं। उनका कहना है कि बयानों के आधार पर उचित कार्रवाई के लिए प्रतिवेदन बनाकर वरिष्ठ अधिकारियों को भेजा जाएगा।

यहां बताना होगा कि अधीक्षिका पर पूर्व में पोहरी छात्रावास में पदस्थी के दौरान भी छात्राओं को खाना नहीं देने के आरोप लगे थे, तत्समय पोहरी एसडीएम रहीं पल्लवी वैद्य ने छात्रावास पहुंच कर कई दिन से भूखी छात्राओं को खाना खिलाया था। छात्रावास अधीक्षिका राजकुमारी कोली कुछ माह पूर्व ही पिछोर एसडीएम बिजेंद्र यादव पर आरोप लगाया था कि वह उसे और छात्रावास की छात्राओं को रात में अपने बंगले पर बुलाने के लिए प्रेशर बना रहे हैं।

अधीक्षिका को पहले से हटा चुके हैं रिलीव नहीं हुई

छात्राओं की शिकायत के आधार पर हम कार्यवाही करेगें हालांकि उक्त अधीक्षिका को पहले ही हटाने के आदेश जारी किये जा चुके हैं, अब छात्राओं के आरोपों को देखते हुए सोमवार तक भारमुक्म्त कर दिया जायेगा।
महावीर जैन
जिला संयोजक, आदिमजाति कल्याण विभाग