राधा अष्टमी: एक सैकड़ा साल से भी पुरानी परंपरा है नगर की दही कथा उत्सव- Shivpuri News

कोलारस। कोलारस नगर में रविवार को 4 सितंबर को राधा अष्टमी बड़ी ही धूमधाम से मनाई जाऐगी। इस उत्सव की शान दंही कंधा और शोभा यात्रा रहेगी यह नगर की यह परंपरा एक सैकडा साल पुरानी हैं। इस परंपरा में नगर के लोग गोपाल जी मंदिर से नगर के धार्मिक लोग समय के हिसाब से राधा रानी के चित्र पट्टिका को लेकर नगर की गलियों में भजन कीर्तन करते हुए निकलते थे।

समय के साथ आयोजन में भव्यता आती गई और करीब 30 वर्ष से इसे रथ यात्रा का रूप दे दिया गया। प्राचीन समय में निर्मित गोपाल जी मंदिर में वृंदावन श्री राधावल्लभ मंदिर की तर्ज पर निर्मित है और वहीं की तर्ज पर यहां पूजा पाठ और ठाकुर जी और राधा रानी की सेवा होती है। यह मंदिर वास्तुकला का अनोखा संगम है।

राधा अष्टमी के पर्व को लेकर राधे ज का जो उत्सव गोपाल जी मंदिर एवं पंचायती मंदिर पर शुरुआती 3 तारीख को धारण लीला का आयोजन किया गया है और आज सुबह पूरे नगर के लोग राधे रानी के जयकारे के साथ दही कंधा दही से नहाना पूरे नगर में टोलियां बनाकर महिलाएं बच्चे बूढ़े जवान सभी लोग नगर में निकलेंगे। इससे पहले राधा गोपाल जी मंदिर पर साल में एक बार राधाष्ठमी पर अभिषेख और विशेष श्रंगार किया जाता है। जिसके बाद मंदिरों पर बधाइयां और प्रभु के बड़े सुंदर दर्शन होते हैं।

यह धार्मिक आयोजन होंगे आज .

सुबह 4ः30 बजे से 7 बजे तक समाज बधाई एवं श्री राधा प्राकट्य दर्शन, 7ः30 बजे से दधि कांधा उत्सव, 11 बजे तक स्नान चल समारोह, 11 बजे से समाज बधाई एवं उत्सव दर्शन, सायं 4 बजे चाव चल समारोह, रात 11 बजे प्रसाद वितरण किया जाएगा।

यात्रा को लेकर जनप्रतिनिधियों भी तैयारियों में जुटे .

राधाष्ठमी रथ यात्रा को लेकर नगर परिषद अध्यक्ष श्रीमती प्रियंका शिवहरे कि अनुसंशा पर उपाध्यक्ष रोहित बंसल, पार्षद श्रीमती भारती शिवहरे, पार्षद विकास कुशवाह, पार्षद सोनम राम सड़ैया, पार्षद राहुल जैन, पार्षद पूजा आनंद ओझा, पार्षद विक्की राजौरिया सीएमओ महेश जाटव के साथ मार्गो कि साफ सफाई और पेंच वर्क के कार्य में लगे हुए है। उत्सव समिती द्वारा नगर को दुल्हन की तरह सजाया गया है।