बेटे ने कर ली आदिवासी युवती से लव मैरिज, घर लेकर बहू को पहुंचा बेटा, जमकर मारपीट- kolaras News

कोलारस। खबर जिले के कोलारस विधानसभा की लुकवासा चौकी से आ रही है कि सीमा चौकी की सीमा में आने वाले देहरदा सडक गांव के रहने वाले एक परिवार ने अपनी बहू और बेटे की मारपीट कर दी,बहू और बेटे का कसूर यह था कि उन्होंने भाग कर लव मैरिज की थी। बहू की जाति अलग होने के कारण परिवार उन्हें स्वीकार नहीं कर रहा,बहू और बेटा सालो बाद अपने घर आए थे,घर आए बेटे और बहू को देखकर ससुराली भड़क गए और जमकर मारपीट कर दी।

घर से भाग कर किया था प्रेम विवाह

जानकारी के अनुसार देहरदा सड़क गांव के रहने वाले विनोद कुशवाह को 8 वर्ष पहले कोलारस की रहने वाली सपना आदिवासी के साथ प्यार हो गया था। उसने सपना से शादी करने की बात अपने परिजनों से की, तो परिजनों ने आदिवासी महिला से शादी करने से साफ मना कर दिया। आठ साल पहले जातिवाद की बेड़ियों को तोड़ते हुए विनोद कुशवाह ने सपना आदिवासी के साथ भागकर शादी कर ली।

ससुराल वालों ने नीची जाति का कहकर नहीं स्वीकारा

शादी के कुछ साल बाद जब विनोद और सपना ने घर आना चाहा, तो उसे घर में नहीं रहने दिया। विनोद की पत्नी सपना ने भी कहा कि वह इन आठ वर्षों में एक या दो बार ही ससुराल गई। उसके ससुराल वालों ने उसे नीच जाति की कहते हुए स्वीकार नहीं किया। सपना ने कहा कि उसे उसके ससुराल वालों ने अलग बर्तन में खाना और पानी दिया था।

पिता ने बहु और बेटे को जमकर पीटा

प्रेम विवाह के बाद जब विनोद और उसकी पत्नी सपना को घर में प्रवेश नहीं मिला तो वह कोलारस रहने लगे थे। बीते दिन विनोद ने नई बाइक खरीदी थी, जिसका पूजन करवाने के लिए वह पत्नी के कहने पर घर आया था। उसकी पत्नी सपना भी उसके साथ गई हुई थी। कई सालों बाद सपना को देखकर ससुराल वाले भड़क गए और उसे बुरा भला कहने लगे। विनोद ने अपने परिजनों को रोका तो पिता और भाई ने मिलकर विनोद के साथ जमकर मारपीट कर दी। पिता और भाई यहीं नहीं रुके, उन्होंने अपनी बहू की भी पिटाई लगा दी। जिस बाइक की पूजा करवाने पति पत्नी घर गए हुए थे उसे भी तोड़ दिया। सपना ने अपने और अपने पति के साथ हुई मारपीट की शिकायत लुकवासा चौकी में दर्ज कराई है।