3 माह के वेतन के भटक रहे स्वच्छता सर्वेक्षण में काम करने वाले कर्मचारी- Shivpuri News

शिवपुरी। खबर शिवपुरी के कलेक्ट्रेट से मिल रही है। शहर को स्वच्छता सर्वेक्षण में सर्वे के लिए नगर पालिका से अनुबंधित हूमन मैट्रिक सिक्युरिटी इंदौर की कम्पनी को नियुक्त किया गया था। इसके तहत कर्मचारियों को शहर में स्वच्छता सर्वेक्षण करना था। लोगों को शहर को स्वच्छ रखने के लिए प्रेरित करना था।

शहर के लोगों की नियुक्ति शर्त के आधार पर की गई थी। उनके वेतन 8000 रुपये देना था। साथ 2000 रूपए पीएफ कुल मिलाकर 10000 हजार रुपए देने होते थे। इसमे काम करने वाले गिरजाशंकर यादव,दिनेश कुमार शाक्य,गायत्री शाक्य का वेतन आज दिनांक तक नहीं दिया गया। बिना वेतन दिए कम्पनी यहां से चली गई। आवेदकों ने अपनी वेतन के सम्बध में नगर पालिका सीएमओ से बात की तो उनके द्वारा जवाब दिया गया।

हमें जानकारी नहीं है। इसके लेकर श्रम पदाधिकारी को श्रम कार्यालय में 5.07.2022 को आवेदन दिया गया।लेकिन इसके बावजूद भी आज दिनांक तक वेतन नहीं दिया गया है। इसके शिकायत के लेकर कलेक्टर में जनसुनवाई में आवेदन दिया गया है। लोगों ने बताया कि हमें लोगों की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं हम अपना जीवन यापन कैसे करें साहब से निवेदन कर रहे है कि हमारा 3 माह का वेतन दिया जाए।