badarwas news- भाजपा की क्रॉस वोटिंग के बाद भी अध्यक्ष और उपाध्यक्ष विजयी

बदरवास। बदरवास नगर परिषद के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के आज चुनाव संपन्न हुए। इस चुनाव में भाजपा के प्रत्याशी विजयी हुए,लेकिन बदरवास में भाजपा के दो पार्षदों ने भाजपा के खिलाफ वोटिंग कर दी,लेकिन अध्यक्ष के चुनाव में जो रिजल्ट आया उसमें 3 वोट से भाजपा का प्रत्याशी  प्रयागबाई परिहार विजयी हुई,वही उपाध्यक्ष पद के लिए भूपेन्द्र भोले भैया भी 3 वोट से विजयी हुए है।

बदरवास में अध्यक्ष पद के एससी महिला पद के लिए आरक्षित थी। निकाय चुनाव के रिजल्ट के बाद जब पार्षद चुनकर आए उसमें लग रहा था कि प्रयागबाई परिहार अध्यक्ष के निर्वाचित होगी, बदरवास नगर परिषद का जब से गठन हुआ हैं कांग्रेस के नेता स्वः लाल साहब यादव का कब्जा रखा है। पिछले 2 बार से भूपेन्द्र भोले नगर परिषद का अध्यक्ष रहे है,प्रयाग बाई परिहार भी भूपेन्द्र भोले की ही प्रत्याशी है।

इस परिषद के चुनाव में पूर्व विधायक महेंद्र यादव और पूर्व विधायक देवेन्द्र जैन का मिलन भी इस चुनाव में चर्चा का विषय बना रहा। आज सुबह से इस चुनाव को लेकर गहमागहमी रही। पूर्व विधायक यादव और पूर्व विधायक जैन ने सुबह से ही बदरवास में डेरा जमा लिया थां,भाजपा ने अपना प्रत्याशी अध्यक्ष के लिए प्रयागबाई परिहार और उपाध्यक्ष के लिए भूपेन्द्र भोले को घोषित किया ।अध्यक्ष पद के लिए दूसरा फॉर्म नीलम परिहार जो निर्दलीय विजयी हुई थी उनका रहा

वही उपाध्यक्ष के लिए भूपेन्द्र यादव भोल भाजपा के मेंटेंड के रूप में फार्म भरा और इनके विरोध में मनीता नरेंद्र ग्वाल ने उपाध्यक्ष के लिए फार्म भरा। इस रस्साकशी भरे चुनाव में भाजपा समर्थित अध्यक्ष और उपाध्यक्ष विजयी हुए। इस चुनाव में भाजपा समर्थित दोनों प्रत्याशियों को 9 वोट मिले और इनके विपक्ष में 6 वोट मिले। भाजपा के मेंडेंट पर खडे हुए अध्यक्ष और उपाध्यक्ष 3 वोट से विजयी हुए।

?बदरवास नगर परिषद में कांग्रेस अपना खाता भी नहीं खोल सकी थी बदरवास नगर परिषद में 5 पार्षद निर्दलीय चुने गए, जबकि 10 पार्षद भाजपा के विजय हुए थे। वही 1 पार्षद ऐसे विजयी हुए जो भाजपा समर्थित थे इस प्रकार भाजपा के पास संख्या बल 11 पार्षदों का था,लेकिन आज मतपेटी में भाजपा के 9 मत ही निकले,ऐसा माना जा रहा हैं कि दो भाजपा के पार्षदों से भाजपा के खिलाफ क्रॉस वोटिंग कर दी।