गर्भवती महिला की फांसी पर लटकने से मौत, भाई बोला मेरी बहन नही लगा सकती फांसी- Pohri News

शिवपुरी। खबर जिले सहसराम ग्राम से आ रही है जहां एक 22 वर्षीय गर्भवती महिला ने फांसी लगा कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली है। वहीं मृतिका के भाई का कहना है, कि उसकी बहन ऐसा कदम नही उठा सकती है और न ही उसे फांसी का फंदा बनाना आता है। पुलिस ने मर्ग कायम कर बॉडी को पीएम के लिए भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार राधिका शाक्य उम्र 22 वर्ष निवासी गौशाला का विवाह कुछ समय पूर्व नंदकिशोर निवासी सहसराम के साथ हुई थी। दोनो का एक बच्चा भी है जिसकी उम्र डेढ़ वर्ष है। महिला दूसरी बार गर्भ से थी। महिला के भाई अजय शाक्य ने बताया कि 26 मार्च को उसे चैकअप कराने शिवपुरी लाए थे। चेकअप कराने के बाद राधिका अपने ससुराल चली गई थी।

जिसके बाद आज उसके ससुराल से फोन आया कि राधिका को ब्लीडिंग हो रही है। भाई ने कहा कि उसे शिवपुरी ले आओ यहीं दिखा लेंगे। जब ससुरालीजन उसे शिवपुरी लेकर आए तो पता चला कि पूरा मामला फांसी लगाने का है। मृतिका के भाई का कहना है कि उसकी बहन फांसी नही लगा सकती है और न ही उसे फंदा बनाना आता। फिलहाल पुलिस ने मर्ग कायम कर बॉडी को पीएम के लिए भेज दिया है। पूरा मामला क्या है यह पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही साफ होगा।