बडी खबर: अप्रैल में मर चुके युवक को कोरोना का दूसरा डोज लगा दिया, आधा दर्जन फर्जी मामले- Shivpuri News


शिवपुरी। कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह कोरोना की रोकथाम के लिए हर भरसक प्रयास कर रहे है। वह आटों में वैठकर लोगों को कोविड वैक्सीनेशन के लिए जागरूक करने की पहल चला रहे है। वैक्सीनेशन के लिए वह सडकों पर तक उतर गए। परंतु जिम्मेदार महज कलेक्टर को खुश करने के आंकडों का फर्जी खेल खेल रहे है।

जहां आंकडोें के खेल में स्वास्थ्य विभाग ने ऐसे एक मृत व्यक्ति को वैक्सीन लगा दी जो बीते 27 अप्रैल को ही कोरोना के चलते स्वर्गवासी हो गए। ऐसा नहीं है कि यह पहला मामला है। इसके साथ ही कई ऐसे मामले सामने आए है जहां लोगों को बैक्सीन का दूसरा डॉज नहीं लगा है। परंतु उनके नंबर पर वैक्सीनेशन का डॉज कंम्पलीट करने का मैसेज आया है।

पहला मामला पटेल नगर से आया है जहां पटेल नगर निवासी राजेश जैन का कोरोना पॉजिटिव होने के बाद बीती 27 अप्रैल 2021 को ग्वालियर चिकित्सालय में निधन हो गया था,राजेश जैन जब कोरोना पॉजिटिव हुए थे तब उन्हें कोरोना वेक्सीन का एक ही डोज लगा था।

आज सुबह 11.35 पर उनके मोबाइल पर एसएमएस आया कि आपकी कोरोना की दोनो डोज कंप्लीट हो गई हैं, वे अपना सर्टिफिकेट डाउनलोड कर लें। अब उनके परिजन यह नही समझ पा रहे कि उनके स्वर्गीय परिजन को वेक्सीन का सेकंड डोज किसने औऱ कैसे लगाया। यह समझ से परे है।

दूसरा मामला बैराड क्षेत्र का है। जहां सुनील शर्मा निवासी टौरिया के मोबाईल पर 20/11 को मैसेज आया कि आपके यहां वैक्सीन का दूसरा डोज लग गया है। आप अपना वैक्सीन प्रमाण पत्र डाउनलोड कर सकते है। तीसरा मामला अमित शर्मा निवासी टौरिया के मोबाईल पर मैसेज आया कि आपका दूसरा डोज लग गया है। आप प्रमाण पत्र यहां से डाउनलोड कर ले। चौथा मामला कोलारस क्षेत्र का है। जहां गुड्डी बाई निवासी रामगढ कोलारस के मोबाईल पर मैसेज आया कि आपका वैक्सीन का दूसरा डोज कंप्लीट हो गया है। आप अपना सर्टिफिकेट यहां से डाउनलोड कर ले। 

जिसके चलते गुड्डी बाई के पति भानू प्रताप यादव ने स्वास्थ्य केन्द्र खतौरा को इस मामले की सूचना दी तो उन्होंने कहा कि आपके नंबर पर एक आॅटीपी आएगा वह आप बता दे। जिससे आपका वैक्सीनेशन कैसिंल हो जाएगा। परंतु जैसे जैसे ही उन्होंने ओटीपी बताया उनके मोबाईल पर बैरीफिकेशन का मैसेज आ गया। फिर से फोन किया तो उन्होंने बताया कि आप जहां भी वैक्सीनेशन हो वहां चले जाए और हमें फोन कर देना हम आपको वैक्सीन लगवा देंगे।

इसके साथ ही पांचवा मामला ऐजवारा का है जहां के निवासी संजीव सिंह यादव के नंबर पर मैसेज आया कि आपका वैक्सीनेशन कम्पलीट हो गया है आप अपना प्रमाण पत्र डाउनलोड कर ले। ऐसा नहीं है कि यह गिने चुने मामले है बल्कि ऐसे सैकडों मामले सामने आ गए है। साथ ही कई मामले ऐसे है तो सामने नहीं आ सके है।

आखिर ऐसा हो क्यों रहा है
इन दिनों कलेक्टर शिवपुरी अक्षय कुमार सिंह लगातार वैक्सीनेशन को लेकर अपने अधीनस्थों को टारगेट दे रहे है। इस टारगेट के चलते अधिकारी और कर्मचारी अपने अपने टारगेट को अचीब करने के लिए हर भरसक प्रयास कर रहे है। जब टारगेट पूरा नहीं हो रहा तो लोगों के नंबर की सूची से बैरीफायर इन्हें वैरीफाई कर देता है। जिससे यह संख्या टारगेट में दिखने लगती है।

इनका कहना है
ऐसा सिर्फ सॉप्टवेयर की खामी के चलते हो सकता है। जिसमें एक ही नंबर को परिवार के कई लोगों ने सॉप्टवेयर में दर्ज करा दिया है। जिसके चलते यह दिक्कत आ सकती है। आप कह रहे हो तो हम दिखबा लेते है। आपके पास जितने भी स्क्रीन सॉर्ट है आप हमें भेज दे हम इसकी जांच करा लेते है।
डॉ संजय ऋषीश्वर,जिला टीकाकरण अधिकारी शिवपुरी।