बडी खबर: 11 वर्ष की बालिका बधु का 45 हजार में सौंदा ,दुल्हा पुलिस की गिरफ्त में

शिवपुरी। खबर जिले के बामौरकलां थाना क्षेत्र के निवौदा गांव से आ रही है। जहां एक बाल विबाह को प्रशासन की टीम ने रूकवाया है। उक्त आरोपी जबरन इस नाबालिग का व्याह कर रहे थे। इस मामले में पुलिस ने आरोपी पिता सहित परिवार जनों के खिलाफ मामला दर्ज कर नाबालिग को वन स्टॉफ सेंटर भेज दिया है।

जानकारी के अनुसार राखी पुत्री हीरालाल बाल्मीक परिवर्तित नाम उम्र 11 साल निवासी अचरौनी के पिता हीरालाल,चाचा प्रभू बाल्मीक सहित अन्य लोग उसे निवौदा निवासी बंटी बाल्मीक पुत्र प्रभू बाल्मीक उम्र 26 साल के साथ जबरन शादी कर रहे थे। इस मामले की सूचना महिला एवं बाल विकास विभाग के परियोजना अधिकारी अमित यादव को मिली।

जिसपर अमित यादव मय दल के ग्राम निवौदा में पहुंचे। जहां युवती के घर बाले जबरन नाबालिग की शादी 26 वर्षीय बर्षीय बंटी से कराना चाह रहे थे। जिसपर प्रशासन ने उन्हें शादी रोकने की कहा। जिसपर वह तैयार नहीं हुए। प्रशासन ने तत्काल पुलिस को बुलाकर इस शादी को रूकवाते हुए शादी कर रहे परिवार जनों के खिलाफ मामला दर्ज कर किशोरी को वन स्टॉप सेंटर शिवपुरी भिजवा दिया है।

बताया जा रहा है कि बंटी के परिवार के लोगों ने उक्त किशोरी का सौदा 45 हजार रूपए मेें किया था। इस मामले की सूचना पर बाल कल्याण आयोग की टीम भी मौके पर पहुंच गई थी। जिसपर से पुलिस ने आरोपी प्रभू बाल्मीक,बंटी बाल्मीक और पिता हीरालाल बाल्मीक के खिलाफ धारा बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम की धारा 9,10 के तहत मामला दर्ज कर विवेचना में ले लिया है। 

इनका कहना है
एक नाबालिग की शादी होने की हमें सूचना मिली थी,जिसपर से हमने मौके पर पहुंचकर इस शादी को रूकवाया है। साथ ही इस मामले में आरोपीयों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है।
अमित यादव,परियोजना अधिकारी,महिला एवं बाल विकास विभाग खनियांधाना