भगवान परशुराम की शोभायात्रा स्वागत में उमडा शहर,अनेको स्थानो पर हुआ स्वागत- Shivpuri News

शिवपुरी। शस्त्र और शास्त्र दोनों विधा के ज्ञाता भगवान विष्णु के छठवें अवतार भगवान परशुराम जी की प्रतिमा के नगर आगमन पर शिवपुरी वासियों ने पलक पावड़े बिछा कर उनका आतिशी स्वागत किया। विभिन्न सामाजिक धार्मिक संगठनों के स्वागत के साथ.साथ इस शोभा यात्रा की सबसे बड़ी खासियत यह रही कि बड़ी सख्या में मुस्लिम समाज के लोगों ने भी कंधे से कंधा मिलाकर इस शोभायात्रा का जबरदस्त इस्तकबाल किया।

शोभायात्रा में आखाड़ा परिषद के संत रामकिशोर शास्त्री, महामंडलेश्वर पुरुषोत्तम दास महाराज बड़े हनुमान मंदिर के अलावा बाणगंगा के संत महा मंडलेश्वर महाराज और अन्य संत समाज के लोग भी पूरे समय भगवान की अगवानी में मौजूद रहे। ब्राह्मण समाज के बैनर तले शोभा यात्रा का शुभारंभ राजराजेश्वरी मंदिर से दोपहर 2:00 बजे शुरू हुआ और यहां से भगवान परशुराम की प्रतिमा को ढोल ताशों और डीजे बैंड की धुनों के बीच अस्पताल चौराहा कोर्ट रोड होते हुए माधव चौक चौराहा, गुरुद्वारा चौक, गांधी चौक, मुख्य बाजार कमला गंज आदि क्षेत्रों से होते हुए कत्था मिल क्षेत्र स्थित बड़े हनुमान मंदिर तुलसी आश्रम पर ले जाया गया।

यहां बता दें कि जयपुर से यह करीब 5 क्विंटल बजनी भगवान श्री परशुराम की इस ाव्य प्रतिमा स्थापना में शिवपुरी के डॉक्टर बीके शर्मा ने 1 ला ा 51000 का आर्थिक योगदान दिया है। इसके अलावा समाज के विभिन्न लोग भी शोभा यात्रा और इस आयोजन में सहयोग करते दिखाई दिए। अखित भारतीय ब्राह्मण सनातन समाज के जिला संयोजक पुरुषोत्तम कांत शर्मा ने बताया कि अब बड़े हनुमान मंदिर प्रांगण में भगवान परशुराम का एक भव्य मंदिर निर्माण कराया जाएगा जहां इस प्रतिमा की स्थापना पूरे विधि विधान के साथ यज्ञ हवन के माध्यम से की जाएगी जिसकी रूपरेखा तैयार की जा रही है।

भगवान परशुराम की इस धार्मिक जुलूस में शहर के युवाओं का उत्साह देखते ही बन रहा था घोड़ों पर सवार युवाओं की टोलियां हाथों में भगवा और फ रसा लेकर चल रही थीं माता बहनों ने भी बढ़चढ़ कर भागीदारी की। अस्पताल चौराहे से लेकर शहर के विभिन्न क्षेत्रों में पुष्पवर्षा और माल्यापर्ण कर लोगों ने स्वागत किया वहीं माधव चौक चौराहे पर जानकी सेना सामाजिक संगठन, सहरिया क्रांति, मुस्लिम समाज, मध्य देशीय अग्रवाल समाज संगठन, प्रेम स्वीट्स सेंटर, राज रियल स्टेट, अटल समाधिया, प्रदीप मेडिकल, राजेन्द्र गुप्ता, राजेन्द्र दुबे खजूरी वालों द्वारा किया गया स्वागत अभिभूत कर देने वाला था। जय श्री राम जय परशुराम के नारों की गूंज से चौराहा गूंज उठा।