कोलारस की राजनीतिक ताकत वाली सड़क का हाल बेहाल, पचावली पुल पर सभी राजनीतिक ताकतें विफल - kolaras News

कोलारस। कोलारस विधानसभा क्षेत्र में मुख्यमंत्री सड़क योजना से बनी सड़क आम लोगों को लाभ देने की बजाय परेशानी पैदा कर रही है सड़कों को बनाने वाले ठेकेदारों ने सड़क निर्माण के नियमों को ताक पर रखकर सड़कों का निर्माण कराया हैं।

घटिया मटेरियल से सड़कें बनवाई है शिकायत होने के बावजूद भी ठेकेदारों पर कार्रवाई नहीं होती अधिकतर ठेकेदार सत्ताधारी दल के नेताओं से जुड़े हुए हैं कोलारस से राई तक बनी सड़क कुछ वर्षों पहले बनाई गई थी परंतु बनने के बाद से ही इस सड़क में जगह-जगह गड्ढे हो गए हैं सड़क की गिट्टी निकल कर बाहर आ रही है

कोलारस के अस्थाई बस स्टैंड से कुंभराउआ तक बनाई गई सड़क की भी हालत बद से बदतर स्थिति में हो गई है गहरे गहरे गड्ढे दुर्घटना का इंतजार कर रहे हैं इस सड़क पर से निकलने वाले बाइक सवार आए दिन दुर्घटनाओं का शिकार हो रहे हैं डेहरवारा से कुशयारा तक बनाई गई सड़क जगह-जगह से उखड़ गई है इसी तरह प्रधानमंत्री सड़क योजना के तहत बनाई गई सड़कों में ठेकेदारों द्वारा जमकर सड़क निर्माण के नियमों का उल्लंघन कर जमकर भ्रष्टाचार मनमानी की गई है।

कांग्रेस सरकार में पूर्वमंत्री पूर्व विधायक वर्तमान भाजपा विधायक के ग्रह ग्राम की ओर जाने वाली सड़क गड्ढों में तब्दील
देहरदा से अशोकनगर जाने वाली सड़क मैं गड्ढे ही गड्ढे दिखाई दे रहे हैं इस सड़क की हालत कई वर्षों से ऐसी ही स्थिति में दिखाई दे रही है जबकि इसी सड़क पर से कांग्रेस सरकार में पूर्व राज्य मंत्री रहे स्वर्गीय पूरन सिंह वेडय़िा का ग्रह ग्राम मथना और कांग्रेस के पूर्व विधायक स्व. राम सिंह यादव का निवास खतौरा और इन्हीं के पुत्र पूर्व विधायक महेंद्र सिंह यादव जो अब भाजपा में शामिल हो गए हैं।


और वर्तमान विधायक वीरेंद्र सिंह रघुवंशी का ग्रह ग्राम गिदौरा जाने के लिए इसी सड़क पर से होकर जाना आना होता है प्रतिदिन यहां से यह जनप्रतिनिधि निकलते हैं साथ ही इसी सड़क पर से यहां के भाजपा सांसद डॉ के पी यादव आते जाते हैं इसके बावजूद भी इस सड़क की हालत खस्ता हाल नजर आ रही है अब आप ही अंदाजा लगा सकते हो कि सांसद पूर्व विधायक वर्तमान में भाजपा विधायक और पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कमला बैजनाथ सिंह यादव का ग्रह ग्राम अलाबदी है अन्य नेतागण भेजो अच्छे-अच्छे पदों पर विराजमान है।

इन सभी महानुभावो के ग्रह ग्रामों में इसी सड़क से जाते आते हैं इसके बावजूद भी इस सड़क की ऐसी दुर्दशा हो रही है सोचने पर मजबूर कर रही है इतनी संख्या में इस सड़क के आसपास जनप्रतिनिधि निवासरत है इसके बावजूद भी इस सड़क में गड्ढे ही गड्ढे है इन गड्ढों से आए दिन लोग चोटिल हो रहे हैं और जनप्रतिनिधियों को कोसते हुए दिखाई देते हैं आखिर इस सड़क की यह दुर्दशा कब ठीक होगी।

पचावली पुल पर कार्य धीमी गति के होने के चलते वाहन चालक से लेकर ग्रामीण लोग होते परेशान
देहरदासड़क से अशोकनगर की ओर जाने वाली सड़क पर स्थित अनंतपुर पचावली ग्राम के बीच में से निकली सिंध नदी पर स्थित पुल के बारिश में टूट जाने के चलते लोग परेशान हो रहे हैं बारिश के समय यह रास्ता ही बंद कर दिया गया था और बड़े वाहनों से लेकर ग्रामीण लोग बदरवास होकर आ जा रहे थे इस पुल का निर्माण काफी बरसों पहले से चल रहा है परंतु ठेकेदार द्वारा बीच में कार्य बंद कर दिया गया।

इसके बाद दूसरे ठेकेदार को ठेका दिया गया है परंतु अब भी इस पुल का निर्माण कार्य धीमी गति से चल रहा है जिसके चलते लोग काफी समय से परेशान बने हुए हैं कार्य कर रहे ठेकेदार द्वारा अलग से रास्ता बनाना था परंतु ठेकेदार द्वारा रास्ता नहीं बनाया गया और ग्राम के लोगों सहित वाहन चालको ने खुद ही कच्चा रास्ता बना लिया ठेकेदार ने संकेत बोर्ड तक नहीं लगाए जिसके चलते लोग परेशान होते हैं।

सबसे अधिक परेशान भवन से बाहर से आने वाले भान सवाल लोग होते हैं वह रास्ता तक भटक जाते हैं और अन्य ग्रामों की ओर बहन को मोड़ देते हैं फिर वापस लौट कर आते हैं जिसके चलते उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ता है पुल का कार्य धीमी गति से होने के चलते भी भारी वाहनों से लेकर ग्रामीण लोग परेशान हो रहे हैं इस पुल पर से सांसद से लेकर विधायक गण प्रतिदिन गुजरते हैं किसी ने भी इस समस्या की ओर ध्यान नहीं दिया और आमजन ग्रामीण लोग वाहन चालक परेशान हो रहे हैं।