माफिया गरीबों से कहता कि राशन नहीं आया, रात्रि में बेच रहा था,पब्लिक ने पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया- Shivpuri News

कोलारस। जिले के नाम बैसे तो बडे - बडे घोटाले रहे है। चाहे मामला सहकारिता से जुडा हो या खाद्य विभाग से।चारो तरफ भ्रष्टाचार जमकर पैर पसार रहा है। ऐसा ही मामला आज उस समाय प्रकाश में आया जब कोलारस में शासकीय उचित मूल्य की दुकान का राशन व्यापारी के गोदाम में जा रहा था। अटरूनी गांव के लोगों को पता चला तो सरकारी खाद्यान ट्रैक्टर के जरिए गल्ला व्यापारी के गोदाम पर जा रहा है तो उन्होंने दबिश दी और ट्रैक्टर सहित राशन पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस ने खाद्यान से भरी ट्रैक्टर-ट्राॅली जब्त कर चौकी में खड़ी कर ली है। खाद्य आपूर्ति विभाग के अधिकारियों को मामले की सूचना दे दी गई है।

ट्रॉली में पार्टीशन कर भरा था गेहूं और चावल 

अटरूनी गांव की शासकीय उचित मूल्य की दुकान पर आसपास के कई गांव के हितग्राही खाद्यान लेने के लिए आते हैं, लेकिन लंबे समय से सेल्समैन प्रवेश रघुवंशी अजान नहीं आने का बहाना बनाकर राशन ग्रामीणों को नहीं बांट रहा था। इसी के चलते ग्रामीण कंट्रोल पर आने वाले खाद्यान पर नजर रखने लगे। हाल ही में खाद्यान आया तो उसमें से कुछ राशन बांटकर रघुवंशी ने बाकी राशन ब्लैक मार्केट बेच दिया। इसे ही ट्रैक्टर-ट्रॉली में भरकर व्यापारी के गाेदाम में भिजवा रहा था।

लोगों को पता चला कि रात में राशन जाने वाला है। ग्रामीणों ने पीछा किया तो ट्रैक्टर-ट्राॅली गल्ला कारोबारी नीरज के गोदाम पर उतरता मिला। ग्रामीणों की सूचना पर लुकवासा चौकी प्रभारी योगेंद्र सिंह भी मौके पर पहुंचे। यहां ट्रैक्टर-ट्राॅली में गेंहू, चावल सहित अन्य राशन मिला। इस पर राशन सहित ट्रैक्टर-ट्राॅली जब्त कर ली।

इनका कहना है
कुछ ग्रामीणों ने एक ट्रैक्टर-ट्राॅली को पकड़ कर हमें सूचना दी थी। उन्होंने बताया कि कंट्रोल का गेंहू बाजार में बिकने जा रहा है। सूचना पर हमने ट्रैक्टर-ट्रॉली जब्त कर ली है, उसमें गेंहू, चावल भरा है। मामले की जानकारी खाद्य विभाग को दे दी है। आगे की कार्यवाही वही करेंगे।
योगेन्द्र सिंह सेंगर,चौकी प्रभारी लुकवासा