फॉरेस्ट एरिया में पौधे लेने गए युवक और बेटे को लॉकअप में बिठाने के मामले में मानवाधिकार आयोग ने लिया संज्ञान- Shivpuri News

शिवपुरी। ऋषि पंचमी के दिन नेशनल पार्क की महिला रैंजर द्वारा दो युवकों को लॉकअप और बेटे को फोरेस्ट नाका परिसर के अंदर रखने पर मानव अधिकार आयोग के अध्यक्ष न्यायमूर्ति नरेंद्र कुमार जैन ने स्वत: संज्ञान लिया है और डीजीपी तथा एसपी शिवपुरी से तीन सप्ताह में जबाव मांगा है।

जानकारी के अनुसार भदैयाकुण्ड में ऋषि पंचमी पूजा के लिए पिता अपने बेटे सहित अपा मार्ग का पौधा लेने गए थे। उनके साथ एक अन्य युवक भी था। वहीं महिला रैंजर तीनों को अपने साथ लेकर आई और दोनों युवकों को करीब ढ़ाई घंटे तक लॉकअप में रखा।

बच्चे को भी थाने में बैठाया। इसके बाद चालान काटकर उन्हें छोड़ दिया गया। महिला रैंजर का कहना था कि यह मामला माधव नेशनल पार्क में अवैध प्रवेश का था। पार्क एरिया में आम लोगों का प्रवेश पूरी तरह से बंद है। लकिन मानव अधिकार आयोग ने इस मामले को गंभीरता से लेकर कार्रवाई की।