घर है या मोहल्ला: एक ही घर में 91 मतदाता, नगर की सूची से 221 नाम गायब

बदरवास। जिले की नगर परिषद बदरवास की मतदाता सूची में नामो के फर्जीवाडे की जांच शुरू हो चुकी है। बताया गया है कि नगर के 15 वार्डो में 1100 फर्जी मतदाता होने की शिकायत मिली हैंं और लगभग 350 से अधिक अपत्ति लगी हैं और शिकायत राज्य निर्वाचन आयोग भोपाल को की गई थी इसके उपरांत इन मतदाता सूचियो की जांच शुरू की गई।

बदरवास के वार्ड-3 में गृह क्रमांक 202 में 91 व्यक्ति, गृह क्रमांक 122 में 31 व्यक्तियों को रहना बताया। इसी वार्ड में गृह क्रमांक 143 में 17 व्यक्तियों को रहना दर्शाया और गृह क्रमांक 164 में 62 व्यक्ति, गृह क्रमांक 168 में 44 और गृह क्रमांक 203 में 72 व्यक्ति रहना दर्शाया। आयोग से मौके पर भौतिक सत्यापन की मांग की। इसी तरह अन्य बिंदुओं पर शिकायत हुई है।


जिला कांग्रेस कमेटी शिवपुरी के जिला उपाध्यक्ष अर्जुनसिंह इकलोदिया ने बताया कि नगर परिषद बदरवास के 15 वार्डों में लगभग 1100 लोगों का नाम फर्जी तरीके से मतदाता सूची में नाम जोड़ा गया है। 15 फरवरी को नगर परिषद ऑफिस जाकर आपत्ति दर्ज कराई थी। लेकिन तहसीलदार ने लेट होने का बहाना बनाकर आपत्ति स्वीकार नहीं की।

अर्जुनसिंह का कहना है कि पूर्व नगर परिषद के पूर्व उपाध्यक्ष का नाम वार्ड 3 के साथ उनके पैतृक गांव ऐजवारा की सूची में भी दर्ज था। पहलवान सिंह की मौत के बाद भी वार्ड 3 की वोटर लिस्ट में नाम दर्ज है। बीएलओ से बात की तो उन्होंने कोई गलती स्वीकार नहीं की और ना ही नाम हटाने का प्रयास किया। शिकायत के बाद जांच करे नायब तहसीलदार प्रेमलता पाल सोमवार को आईं। उनके बुलाने पर बयान दर्ज कराए हैं।

आपत्तियों के बाद 221 नाम हटाए
नगर के वार्ड 1 के लोगों ने 30 आपत्तियां लगाईं थीं, लेकिन सूची से 42 नाम हटा दिए। जब इतनी आपत्तियां नही लगीं तो नाम कैसे हटाए, इसकी भी जांच की मांग की है। वहीं वार्ड 2 में 353 आपत्तियां लगीं और मात्र 52 नाम हटाए। वार्ड 3 में 400 आपत्तियों पर 53 नाम हटाए 7 वार्ड 9 में 191 आपत्ति पर 11 नाम हटाए। वार्ड 11 में 60 आपत्ति पर 13 नाम हटाए। वार्ड 13 में भी 96 आपत्तियों पर 50 नाम हटाए गए।