कोरोना काल में भागवत का भंडारा खाने नहीं गए तो पूरे परिवार को पीटा, पुलिस ने भी सुनवाई नहीं की - Shivpuri News

पोहरी। खबर जिले के पोहरी थाना क्षेत्र के ग्राम नानौरा से आ रही है। जहां एक परिवार ने गांव के ही एक परिवार पर कोरोना काल में भंडारा खाने नहीं जाने को लेकर मारपीट का आरोप लगाया है। इस मामले की शिकायत करने पीडित पक्ष पोहरी थाने पहुंचा। जहां पहले तो पुलिस ने पीडित को थाने से भगा दिया। परंतु उसके बाद पीडित पक्ष मंत्री के पास पहुंचा तब कही जाकर मामला दर्ज हो सका।

जानकारी के अनुसार मोहन पुत्र कल्याण शर्मा उम्र 30 साल निवासी नानौरा ने बताया है कि आज गांव में भगतजी के यहां भागवत का भंडारा था। जिसमें पूरे गांव को न्यौता दिया था। जिसमें मोहन और उसके परिवार ने कोरोना के चलते भंडारे में जाने से इंकार कर दिया।

जिसपर से आरोपी नरेन्द्र शर्मा,सुरेन्द्र शर्मा,राहूल शर्मा और जगदीश पाराशर आ गए और जबरन पूरे परिवार को भंडारे में चलने की कहने लगे। जिसपर से मोहन और उसके परिवार ने जाने से इंकार कर दिया। यह बात आरोपीयों को नागवार गुजरी और उन्होंने गाली गलौच देते हुए घर में घुसकर मोहन और उसके परिवार के साथ मारपीट कर दी।

इस मामले की शिकायत करने पीडित पक्ष थाने पहुंचा तो पुलिस ने एफआईआर से इंकार कर भगा दिया। उसके बाद पीडित पक्ष मंत्री के यहां पहुंचा जहां मंत्री के हस्तक्षेप के बाद इस मामले में पीडित की शिकायत पर मारपीट की धाराओं में मामला दर्ज हो सका।