मंत्री यशोधरा ने लिखा डॉक्टरों के नाम खत, PPE किट में पसीने में तर होकर कर रहे काम - Shivpuri News

शिवपुरी। मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने एक खत लिखा है और उनसे अपील की है कि वह इस कोरोना के दौर में शिवपुरी वासियों को अपनी सेवाएं अनरवत रूप से देते रहे जिससे शिवपुरी वासियों को डॉक्टरों की सेवाओं की कमी न हो।

मुश्किल समय है फिर भी जुटे जी जान से

मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने अपने खत में लिखा है कि कोरोना की पहली लहर में डॅाक्टरों ने इतना परिश्रम किया था कि कोरोना की पहली लहर में शिवपुरी वासियों को कोरोना से मुक्ति दिलाई लेकिन यह दूसरी लहर काफी कठिन हैं और इसमें लोगों ने भी अपनी आदतों में सुधार नहीं किया है वह न तो हाथों को साफ कर रहे हैं और न ही दो गज दूरी का ही पालन कर रहे हैं।

ऐसे में इस कठिन दौर में डॉक्टर भी कोरोना के कहर से बच नहीं पा रहे हैं और उनके परिजन भी इसकी चपेट में हैं। ऐसे में उन्हें संयम और धैर्य से काम लेना होगा जिससे आमजन को बचाया जा सके।

पीपीई किट में पसीने में तर होकर कर रहे काम

मंऋी ने अपने खत में डॉक्टरों की पीडा का भी बयान किया है उन्होंने लिखा है कि कोरोना के इस काल में गर्मी के बावजूद डॉक्टर पीपीई किट पहनकर पसीने में तर होकर भी काम बखूबी कर रहे हैं। इतना ही नहीं उन्हें खाने तक की फुर्सत नहीं है बावजूद इसके वे मरीजों का उपचार कर रहे हैं।

डॉ गिरीश और कटारिया की पोस्ट पर लिखा खत

बीते रोज डॉ गिरीश चतुर्वेदी ने अपनी पीडा वयां करते हुए पाती लिखी थी जिसके बाद उनकी इस पीडा को मंऋी ने समझा और एक लेटर शिवपुरी के डॉक्टरों को लिखा है।

जिससे कोरोना के इस काल में उनका मनोबल न टूटे और वह पूरी स्फूर्ति के साथ मरीजों का उपचार कर सके। इतना ही नहीं उन्होंने लिखा है कि आईसीयू और ऑक्सीजन सहित अन्य साजों सामान की जरूरतों की पूर्ति के लिए वे सतत प्रयास करती रहेंगी।