आइसोलेशन वार्ड में बत्ती गुल: स्वीच ओवर के दौरान एक मरीज का स्विच ऑफ,आज 103 पॉजीटिव

शिवपुरी। जिला अस्पताल में स्थित आईशोलेशन वार्ड में बिजली जाने के कारण एक मरीज के मौत होने की खबर आ रही हैं। आने वाले तूफान आंधी और बारिश के लेकर कलेक्टर शिवपुरी ने निर्देश दिए थे कि जिला अस्पताल और कॉलेज में आंधी तूफान और बारिश की चेतावनी का देखते हुए बिजली की वैकल्पिक व्यवस्था रखे।

बताया जा रहा हैं कि बुधवार को करीब 4 बजे जिला अस्पताल में बिजली चली गई। इससे ऑक्सीजन सपोर्ट पर भर्ती मरीजों का दम फूल गया। हालांकि बिजली 5 से 10 मिनट में ही आ गई, लेकिन इस दौरान स्विच ओवर करते समय एक मरीज फोसू जाटव उम्र 60 वर्ष निवासी कोलारस की मौत सूचना भी मिली।

अस्पताल से जुड़े सूत्रों की मानें तो यह माैत बिजली के स्विच ओवर दौरान ही हुई। वहीं अस्पताल प्रबंधन का कहना है कि मरीज का ऑक्सीजन सेचुरेशन एकदम से गिरा था। उल्लेखनीय है कि जिला कलेक्टर से लेकर मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया तक ने अस्पताल में बिजली की वैकल्पिक व्यवस्था बनाने के निर्देश दिए थे।

इसके बाद यहां ऐसी व्यवस्था नहीं बनाई जा सकी कि लाइट जाते ही तत्काल जनरेटर या किसी अन्य संसाधन से बिजली की आपूर्ति हो सके। हालांकि जिला अस्पताल में जनरेटर मौजूद है जो जनसहयोग से मिला है। इसके बाद भी इस घटना ने व्यवस्थाओं का कठघरे में खड़ा कर दिया है।

लाइट जाते ही मची अफरातरफी
अस्पताल में लाइट जाने के दौरान दौरान ऑक्सीजन सपोर्ट पर रहे अधिकांश मरीजों में बुरी तरह घबराहट फैल गई और उनके अटेंडर्स भी बदहवासी की हालत में भागा दौड़ी करते दिखाई दिए। अस्पताल में एक मरीज सुमित्रा शाक्य पत्नि कमल किशोर शाक्य 65 वर्ष की भी आइसीयू में मौत हुई है। महिला की मौत लाइट जाने के पहले की बताई जा रही है। वहीं फोसू जाटव की मौत लाइट जाने के दौरान हुई है। उसकी मौत के बाद उसके स्वजन अस्पताल में बिलखते रहे।


इनका कहना है
कुछ देर के लिए लाइट जरूर गई थी, लेकिन इस दौरान किसी की मौत नहीं हुई है। जिस महिला की मौत हुई है वह पहले से सीरियस थी और उसकी मौत लाइट जाने के पहले ही हो गई थी। वहीं फोसू जाटव का ऑक्सीजन सेचुरेशन एकदम से गिरा था। अचानक उसकी तबीयत बिगड़ी। उसे शिफ्ट भी किया जा रहा था।
डॉ. राजकुमार ऋषिश्वर, सिविल सर्जन

आज फिर सैकडा ठोक दिया कोरोना ने
आज स्वास्थय विभाग से जारी हैल्थ बुलेटिन के अनुसार जिले के 1524 मरीजो की कोरोना की जांच रिर्पोट प्राप्त हुई जिसमें से 1417 मरीजो की जांच निगेटिव आई हैं एंव 103 मरीजो की जांच पॉजीटिव आई हैं। आज 236 मरीजो ने कोरोना को हराया हैं,अब जिले में एक्टिव केसो की संख्या 1373 रह गई हैं