मंत्री यशोधरा राजे ने वर्चुअल मीटिंग में जानी कोरोना की स्थिति, मांगें सुझाव - Shivpuri News

शिवपुरी। राज्य शासन द्वारा कोरोना की स्थिति की समीक्षा और पर्यवेक्षण के लिए मंत्रिपरिषद के सदस्यों को जिलों का प्रभार सौंपा है। खेल एवं युवा कल्याण, तकनीकी शिक्षा, कौशल विकास एवं रोजगार मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया को शिवपुरी एवं दतिया जिले का प्रभार सौंपा गया है।

कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने बुधवार को गूगल मीट के माध्यम से शिवपुरी जिले में कोरोना की स्थिति की समीक्षा की और कोरोना महामारी से बचाव एवं रोकथाम के उपायों के संबंध में निर्देश दिये। मंत्री श्रीमती सिंधिया ने निर्देश देते हुए कहा कि जिले में कोरोना केस लगातार बढ़ रहे हैं ऐसे में बचाव एवं रोकथाम के लिए प्रभावी कदम उठाना जरूरी है।

इस संबंध में जिले की परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए लॉकडाउन का निर्णय लिया जाए। उन्होंने बैठक में उपस्थित क्राइसिस मैनेजमेंट समूह के सदस्यों, सामाजिक संस्थाओं, एनजीओ के सदस्यों से सुझाव भी लिए।

कैबिनेट मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने निर्देश दिए हैं कि सभी से परामर्श कर कोरोना कर्फ्यू का निर्णय लिया जाए। जिले में कोरोना की भयावह स्थिति उत्पन्न ना हो इसलिए आवश्यक होने पर लॉकडाउन लगाया जाए। जिसमें व्यापारी वर्ग, विभिन्न समुदाय के प्रतिनिधि, धर्मगुरु, सामाजिक संस्थाएं एवं नागरिकों का भी सहयोग मिले।

सभी जनजागरूकता अभियान में सक्रिय भूमिका निभाते हुए नागरिकों को सावधानी बरतने के लिए प्रेरित करें। मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह को निर्देश दिए हैं कि वार्डवार प्रभारी अधिकारी नियुक्त करें जो क्षेत्र में भ्रमण करके सतत निगरानी करेंगे और नागरिकों से संपर्क कर वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करेंगे।

अधिकारियों के साथ आंगनवाड़ी कार्यकर्ता और नगरपालिका की टीम की ड्यूटी लगाएं। उन्होंने निर्देश दिए हैं कि मास्क के लिए अभियान चलाया जाए जिसमें पुलिस, ट्रैफिक की टीम चेकिंग करे और मास्क न लगाने वालों पर चालानी कार्यवाही के साथ मास्क भी वितरित करें।

कोविड वार्ड में ऑक्सीजन एवं दवायें रहें उपलब्ध

मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने जिले में दवाओं की उपलब्धता के साथ-साथ ऑक्सीजन आदि के संबंध में भी जानकारी ली और निर्देश दिए कि कोविड वार्ड में सभी जरूरी सुविधाएं उपलब्ध कराएं। चिकित्सकों एवं स्टाफ नर्स की तैनाती की जाए। उन्होंने कहा है कि प्रत्येक पार्षद की भी जिम्मेदारी है कि वह अपने वार्ड में स्थिति का जायजा लें। उन्होंने कहा कि आमजन तक सूचना के प्रसार में मीडिया की अहम भूमिका है इसलिए जागरूकता अभियान में मीडिया से सहयोग की अपेक्षा है।

जीवन रक्षक इंजेक्शन रेमडेसिविर, बच सकेगी गंभीर की जान

शिवपुरी। शिवपुरी कोरोना वायरस के संक्रमण के इलाज में जीवन रक्षक माने जा रहे रेमडेसिविर इंजेक्शन शिवपुरी पहुंच गए हैं, इस इजेंक्शन के आने से उन मरीजों और परिजनों को राहत मिल सकती हैं जिनके लंग्स कोरोना संक्रमण के कारण अधिक इफैक्ट हो गए है।

मेडिकल कॉलेज शिवपुरी के डीन अक्षय सिंह निगम से बातचीत के दौरान बताया कि रेमडेसिविर इंजेक्शन शिवपुरी पहुंच गए हैं और इनकी संख्या 100 हैं। यह इंजेक्शन शिवपुरी अस्पताल में पहुंचा दिए गए है। इस समय कोविड आईसीयू में 11 मरीज भर्ती हैं डॉक्टरो की सलाह पर यह इंजेक्शन मरीज को लगाया जाएगा।

एक लाख से अधिक लोगों को लगा कोविड-19 टीका

शिवपुरी। कोविड-19 से बचाव के लिए टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से शुरू किया गया। दूसरे चरण में 1 मार्च से वरिष्ठ नागरिकों को टीका लगाया जा रहा है और इसी क्रम में 1 अप्रैल से 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को टीका लगाया जा रहा है।

जिले में 13 अप्रैल तक एक लाख से अधिक लोगों को टीका लग चुका है। जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ संजय ऋषिस्वर ने बताया कि जिले में अभी तक 14001 हेल्थ केयर वर्कर, 13760 फ्रंट लाईन वर्कर, 45 से 59 उम्र के 35001 नागरिकों और 60 वर्ष से अधिक उम्र के 42980 वरिष्ठजनों को टीका लगाया जा चुका है। इस प्रकार कुल 105742 लोगों को 13 अप्रैल तक टीका लग चुका है।