पूजा स्थल को लेकर दो पक्ष आए आमने सामने, 90 लोगों पर मामला दर्ज / SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। फिजीकल थाना क्षेत्र के हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी के पास स्थित शिव मंदिर को लेकर चले आ रहे विवाद के चलते सोमवार की रात दो पक्ष आमने सामने आ गए और मौके पर जमकर लॉकडाउन के नियमों और सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उडाई गई। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो पुलिस मौके पर पहुंची और दोनों पक्षों को वहां से समझा बुझाकर हटाया।

लेकिन पुलिस के जाने के बाद भी दोनों पक्ष थाने में जमा हो गए। इस दौरान थाना परिसर में भी जमकर नियमों की धज्जियां उड़ी। जिस पर पुलिस ने दोनों पक्षों के 25 नामजद और 65 अज्ञात लोगों के खिलाफ भादवि की धारा 188, 269, 270 के तहत प्रकरण कायम कर लिया।

ज्ञात हो कि हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी के पास खाली पड़े ग्राउंड में प्राचीन शिव मंदिर स्थित है। जहां शिव भक्तों द्वारा मंदिर का जीर्णोद्वार कराया जा रहा था। जिस पर दूसरे पक्ष के लोगों ने आपत्ति जताई और वहां विवाद शुरू कर दिया और पूर्व में यह मामला थाने तक पहुंचा। लेकिन उस समय पुलिस ने मामला शांत करा दिया।

लेकिन सोमवार की रात जब कुछ शिवभक्त वहां आरती करने पहुंचे तो दूसरे पक्ष के लोगों ने उन्हें रोक दिया और वहां बड़ी संख्या में लोग एकत्रित हो गए। सूचना पाकर पुलिस भी वहां आ गई और दोनों पक्षों को समझा बुझाकर वहां से हटा दिया। बाद में एक पक्ष के कुछ लोग थाने पहुंच गए।

जिसकी जानकारी दूसरे पक्ष को लगी तो वह भी एकत्रित होकर थाने आ गए। जहां थाना परिसर में काफी भीड़ लग गई। इस दौरान पुलिसकर्मियों ने भीड़ को हटाने का प्रयास किया। लेकिन भीड़ नहीं हटी तो पुलिस ने हसीना बेगम, आविद हुसैन, अतीक हुसैन, अमन हुसैन, मो. सैफ उर्फ विक्की काजी, रेहाना बेगम, नफिस बेगम, साफिया बेगम, चांद खान सहित 20-25 अन्य महिला पुरूषों के साथ-साथ जुझार सिंह, रामेश्वर रजक, जितेंद्र रजक, गौरव खटीक, धर्र्मेंद्र राठौर, सुनील रजक, मनीष रजक, लाला रजक, नंदू रजक, शुभम शाक्य, संदीप खत्री, मुकेश रजक, मनोज रजक, पुरूषोत्तम रजक, मुकेश राठौर तथा अन्य 30-40 महिला पुरूषों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली।