पूर्व मंत्री लक्ष्मीनारायण गुप्ता को पद्यश्री अवार्ड देने की मांग उठी / Pichhore News

शिवपुरी। मध्यप्रदेश की पहली विधानसभा के सदस्य एवं पांच बार के विधायक व पूर्व मंत्री लक्ष्मीनारायण गुप्ता नन्नाजी को उनकी जनसेवा, समर्पण और ईमानदारी के लिए अंर्तराष्ट्रीय वैश्य महासम्मेलन के जिलाध्यक्ष धर्मेंद्र गुप्ता ने सरकार से उन्हेंं पद्मश्री पुरूष्कार प्रदान करने की मंाग की है। नन्नाजी ने 6 जून को 102 वर्ष पूर्ण कर लिए हैं और पूरे क्षेत्र में वह नन्नाजी के नाम से जाने जाते हैं।

नन्नाजी मध्यप्रदेश की पहली विधानसभा 1952 के सदस्य रहे हैं और 5 बार वह अपने क्षेत्र से विधायक बनकर जनता की सेवा करते रहे। उन्हें मध्यप्रदेश सरकार में मंत्री भी बनाया गया और मंत्री रहते समय उन्होंने अनेक कार्य किए। पिछोर में डिग्री कॉलेज उन्हीं के कार्यकाल में खोला गया। राजस्व मंत्री रहते हुए उन्होंने किसानों को भू-अधिकारी पुस्तिका बनाकर दी।

इससे किसानों को अपनी जमीन का लेखा जोखा रखने में मदद मिली। उन्होंने अपनी वृद्धावस्था में भी समाजसेवा का कार्य नहीं छोड़ा। जिले की उर नदी परियोजना नन्नाजी की है देन है। हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नन्नाजी से मुलाकात की थी और उनसे फोन पर भी चर्चा कर उनका हालचाल जाना था।