कोरोना को लेकर जिला प्रशासन ने कसी कमर | Shivpuri news

शिवपुरी। कोरोना वायरस महामारी से बचाव के लिए स्वास्थ्य विभाग की अहम भूमिका है। इसलिए स्वास्थ्य विभाग की टीम को पूरी तैयारी के साथ अलर्ट रहना है। जिले में दो कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए गए थे, जिनकी जांच रिपोर्ट अब नेगेटिव आ गई है और दोनों मरीज पूरी तरह स्वस्थ हैं परंतु आगे की संभावना के अनुसार हमारी तैयारी और बेहतर होना चाहिए। यह निर्देश कलेक्टर श्रीमती अनुग्रहा पी ने शनिवार को आयोजित बैठक में दिए हैं।

उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. ए.एल. शर्मा एवं सिविल सर्जन से कहा है कि हमारे पास जितने डॉक्टर और तकनीकी स्टाफ है उसको आवश्यकता होने पर सही उपयोग किया जाए।

शनिवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित बैठक में पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी एच.पी.वर्मा, अपर कलेक्टर आर. एस.बालोदिया भी उपस्थित थे।

बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि सभी विकासखंडों में विकासखंड स्तरीय सर्विलेंस टीम गठित की गई हैं और 56 उपटीम बनाई गई हैं। इसके अलावा ग्रामीण क्षेत्रों में उप स्वास्थ्य केंद्र स्तर पर जिले में कुल 191 टीम काम कर रहीं हैं। सीएमएचओ ने बताया कि जिन क्षेत्रों में पॉजिटिव मरीज मिले थे, उन्हें कैंटोनमेंट एरिया घोषित करके वहां परिवारों का सर्वे कराया गया है।

बाहर से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग का रखें ध्यान
 कलेक्टर श्रीमती अनुग्रहा पी ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देश दिए हैं कि जो लोग अन्य जिले से आ रहे हैं या दूसरे प्रदेश से आए हैं, उनकी स्क्रीनिंग का ध्यान रखा जाए। स्क्रीनिंग वाले लोगों की जानकारी ग्राम सचिव को भी उपलब्ध कराई जाए।

सैनिटाइजर और मास्क की उपलब्धता में कमी ना हो
बैठक में कलेक्टर ने कहा है कि सैनिटाइजर और मास्क का उपयोग करना और सोशल डिस्टेंस बनाए रखना कोरोनावायरस से बचाव के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। अभी इनकी कोई कमी नहीं हैं। आगे भी मास्क और सैनिटाइजर की उपलब्धता में कोई कमी न हो। उन्होंने कहा कि स्वसहायता समूह द्वारा तैयार किए गए मास्क भी उपयोग में लाए जा सकते हैं और यह कम दाम पर भी उपलब्ध हैं।