Ads 720 x 90

प्रजापति समाज के सम्मेलन में बोले विधायक रघुवंशी माटी गुंदने को कला में पहचान दिलाई है इस समाज ने | SHIVPURI NEWS

शिवपुरी। प्रजापति समाज आज अपने समाजिक क्षेत्र में जो बदलाव कर रहा है वह काबिले तारीफ है क्योंकि इस समाज की पहचान माटीकला के रूप में जानी जाती है लेकिन आज इस माटीकला से जुड़े प्रजापति समाज ने अपने स्वयं की पहचान बनाई है और यह समाज आज संगठित होकर 88 जोड़ों के साथ समाज में फिजूलखर्ची को रोकने का बड़ा कदम इस आदर्श सामूहिक विवाह सम्मेलन के माध्यम से उठाया यह वाकई अनुकरणीय कार्य हैं।

इससे समाज में समरसता की भावना जागृत होगी और समाज एक-दूसरे के साथ परस्पर जुड़ा रहेगा, नव दाम्पत्य जोड़ों को शुभार्शीवाद कि वह अपना भावी वैवाहिक जीवन सुखमय हंसी-खुशी के साथ व्यतीत करें और सदैव अपने माता-पिता, सास-ससुर सहित समाज की सेवा अवश्य करें क्येाकि समाज का कल्याण तो स्वयं का कल्याण होने के समान है।

उक्त उद्गार प्रकट किए कोलारस विधानसभा क्षेत्र से विधायक वीरेन्द्र रघुवंशी ने जो स्थानीय ग्राम रातौर में अखिल भारतीय प्रजापति महासभा एवं प्रजापति समाज द्वारा आयोजित 7वें आदर्श सामूहिक विवाह सम्मेलन कार्यक्रम को मुख्य अतिथि की आसंदी से संबोधित कर रहे थे। इस दौरान समाज के प्रदेशाध्यक्ष लाखन सिंह प्रजापति मौजूद रहे।

इसके अलावा कार्यक्रम संयोजक व संरक्षक अ.भा.प्रजापति महासभा के राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष हरज्ञान प्रजापति ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की। इस अवसर पर नव विवाहित 88 जोड़े दाम्पत्य सूत्र में बंधे। प्रजापति समाज के 7वें आदर्श सामूहिक विवाह सम्मेलन को सफल बनाने के लिए विवाह सम्मेलन समिति के अध्यक्ष मांगीलाल प्रजापति, उपाध्यक्ष ज्ञानी प्रजापति, कोषाध्यक्ष सुरेश प्रजापति, सह सचिव हेम सिंह, सेठी प्रजापति कमलागंज व इन सब के साथ सहायक समाज के जिलाध्यक्ष सूरज प्रजापति ने मिलकर इस आयोजन को सफल बनाया और विवाह सम्मेलन में शामिल वर-वधुओं एवं उनके परिजनों की आवभगत व सेवा कार्य किया।

इस दौरान प्रजापति समाज के अर्जुन प्रजापति, धरमू प्रजापति, पुरूषोत्तम प्रजापति, लखन प्रजापति, रामवीर प्रजापति, हरचरण प्रजापति, कोमलिया प्रजापति, धर्मेन्द्र, कुंदन, श्रीचरण, नरेन्द्र एवं कल्याण प्रजापति आदि ने भी कई महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों का निर्वहन किया और पूरे समय कार्यक्रम स्थल पर रहरक वहां मौजूद व्यवस्थाओं में सहयोग प्रदान किया।

विवाह सम्मेलन में वर-वधु के परिजनों एवं जोड़ों के लिए पृथक-पृथक व्यवस्था की गई थी साथ ही विवाह सामग्री व विदाई समारोह के माध्यम से सभी नव युगलों को उनके दाम्पत्य जीवन की बधाईयां व शुभकामनाऐं दी। कार्यक्रम में अन्य रंगारंग व सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किए गए जिसमें नृत्य, गायन एवं अन्य रोचक कार्यक्रमों की प्रस्तुति प्रजापति समाज की प्रतिभाओं द्वारा मंच से दी गई। जिस पर इन प्रतिभाओं को पुरूस्कृत भी किया गया। अंत में सफल कार्यक्रम पर प्रजापति समाज ने सभी समाज बन्धुओं का आभार व्यक्त किया।