SHIVPURI NEWS - तीसरी आंख की निगरानी में होगी मतगणना,गुना विधानसभा की सबसे पहले पूर्ण वोटो की गिनती

Bhopal Samachar

शिवपुरी। लोकसभा चुनाव के मतदान के दौरान और पूर्व में जिस तरह से ईवीएम के संबंध में आरोप प्रत्यारोप सामने आए हैं, ऐसे में मतगणना के दौरान ईवीएम से छेड़छाड़ या उसे बदलने जैसे आरोपों को ध्यान में रखते हुए शिवपुरी में मतगणना स्थल पर कलेक्टर रवीन्द्र कुमार चौधरी ने इस तरह की व्यवस्था तय की है कि ईवीएम स्ट्रांग रूम से मतगणना हाल तक पहुंचते हुए पूरी तरह लाइव नजर आएगी।

इसे प्रत्याशियों के साथ-साथ उनके एजेंट और अधिकारी स्क्रीन पर देख सकेंगे। बकौल कलेक्टर रवीन्द्र कुमार चौधरी वहां पर सीसीटीवी कैमरों को इस तरह से लगाया गया है की ईवहीएम कुछ देर के लिए भी कैमरे की नजर से ओझल नही होगी। प्रशासन को इसका सीधा सीधा यह फायदा होगा कि वह किसी भी तरह के आरोप-प्रत्यारोप  के दायरे में नहीं आएगा। आरओ की घोषणा के बाद ही क्लीयर होगी जीत-हार लोकसभा चुनाव में इस बार ग्वालियर लोकसभा सीट अंतर्गत आने वाले पोहरी और करैरा की गणना शिवपुरी में होगी, ऐसे में यहां पर तो एआरओ हर राउंड जीत- हार की घोषणा कर देंगे, परंतु राउंड में जीत हुई या हार इसका फैसला तभी हो पाएगा जब ग्वालियर आरओ फायनल घोषणा करेंगे।

इसी तरह से गुना संसदीय क्षेत्र की गणना शिवपुरी, गुना व अशोकनगर में की जाएगी। इसलिए किस राउंड में कौन सा प्रत्याशी जीता या हारा यह जानने के लिए आरओ की घोषणा का ही इंतजार करना होगा। इससे पहले किसी भी तरह का अनुमान लगाना आसान नही होगा। इसकी मुख्य वजह यह भी है कि मतगणना हाल में मोबाइल प्रतिबंधित होने के कारण राजनीतिक कार्यकर्ता भी एक दूसरे से आसानी से अपडेट नही ले सकेंगे

किस विधानसभा में कितने राउंड में मतगणना
करैरा विधानसभा की 20 राउंड में,पोहरी विधानसभा की 19 राउंड में,शिवपुरी विधानसभा की 19 राउंड में,पिछोर विधानसभा की 19 राउंड में,कोलारस विधानसभा की 18 राउंड में,गुना विधानसभा की 14 राउंड में,अशोकनगर विधानसभा की 20 राउंड में,मुंगावली विधानसभा की 20 और चंदेरी विधानसभा की 17 राउंड में मतगणना होगी। इस प्रकार सबसे पहले गुना विधानसभा के परिणाम सबसे पहले आऐगें।

ऐसे होगी मतों की गणना
अब तक प्राप्त हुए 643 ईसीपीपी एमएस (सर्विस वोटर) के मतों की गणना चार टेबलों पर की जाएगी।
पांच हजार से अधिक पोस्टल वैलिड की काउंटिंग के लिए आठ टेबल लगाई जाएंगी
ईवीएम की गणना हर विधानसभा में 16-16 टेबल पर की जाएगी।
मतगणना वाले दिन सुबह 8 बजे तक जो डाक मत पत्र प्राप्त हो जाएंगे उन्हें गणना में शामिल किया जाएगा।
G-W2F7VGPV5M