SHIVPURI NEWS - बैराड़ स्वास्थ्य केंद्र में इलाज मुफ्त नही, डिलीवरी चार्ज 2100 रूपए, CMHO ने किए जांच के आदेश

Bhopal Samachar
बैराड। बैराड़ स्वास्थ्य केंद्र में स्वास्थ्य सुविधा मुफ्त नही है,इस स्वास्थ्य केंद्र में सुविधाओं को चार्ज लगता है,इससे पूर्व लोकायुक्त पुलिस ने एक मेल को नर्स को रिश्वत लेते हुए धरा था,इस मामले में एमएलसी बनाने की चार्ज 4 हजार रूपए ओपन हुआ था,अब डिलीवरी कराने की सुविधा शुल्क 2100 रुपए की डिमांड की है। यह मामला अब तूल पकड़ चुका है,इसकी जांच के आदेश सीएमएचओ ने कर दिए है,इस मामले में खास बात यह है कि एमएलसी काण्ड में रिश्वत की आंच घिरे डॉ नवोदित अवस्थी करेगें।

जानकारी के अनुसार ग्राम गुरिच्छा निवासी रमा पत्नी नरेंद्र कुशवाह को 24 दिसंबर को प्रसव पीड़ा हुई तो उसके परिजन उसे प्रसव के लिए बैराड़ स्वास्थ्य केंद्र पर लेकर आए थे। प्रसव पीड़ा अधिक बढ़ने के कारण एम्बूलेंस में ही महिला का प्रसव हो गया था। प्रसव उपरांत आगे को सारी कार्रवाई बैराड़ स्वास्थ्य केंद्र में की गई और उसे भर्ती कर लिया गया।

25 दिसंबर को जब प्रसूता को डिस्चार्ज करने की बारी आई तो यहां प्रसूता के प्रसव एवं छुट्टी के एवज में स्टाफ नर्स ने पांच हजार रुपये को मांग की, लेकिन सौदेबाजी करते हुए यह 2100 रुपये पर आ गई। प्रसूता के पति के अनुसार वह 500 रुपये देने तैयार भी हो गया परंतु यह नहीं मानों। अंततः प्रसूता के पति ने अस्पताल में बवाल खड़ा कर दिया, जिसके बाद प्रसूता का को बिना पैसे लिए डिस्चार्ज कर दिया गया। इसके बाद उसने मामले को लिखित शिकायत सीएमएचओ को दर्ज कराई है। सीएमएचओ के यहां से यह मामला बैराड़ में पदस्थ मेडिकल ऑफिसर डॉ. नवोदित अवस्थो को भेजा है।

इनका कहना है
सीएमएचओ ने मुझे शिकायत भेजकर रुपये की मांग करने वाली स्टाफ नर्स के संबंध में पता लगाने की बात कही है। मैं आज टीएल मीटिंग में था और बुधवार को ट्रेनिंग में हूं। अगले दिन में मामले की जांच कर प्रतिवेदन कार्रवाई के लिए CMHO कार्यालय भेजूंगा।
डा.नवोदित अवस्थी मेडिकल ऑफिसर बैराड
G-W2F7VGPV5M