Karera News- गौशाला में 5 गायों की भूख प्यास से मौत, CEO ने किया निरीक्षण

कौशल भार्गव करैरा।
धर्म के नाम पर राजनीति करने वाली भाजपा सरकार के राज में गायों की भूख प्यास से तड़प तड़प कर मौत होने की खबर आ रही है,करैरा जनपद में आने वाली थनरा गावं में स्थित गौशाला में गायों की बुधवार सुबह 5 गोवंशों की मौत हो गई।

5 गोवंशों की मौत के बाद जनपद सीईओ ब्रमेंद्र गुप्ता मौके पर पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। बताया गया है कि पिछले 5 दिनों से गौशाल की गेट तक नही खोले गए थे। इस कारण यह घटना घटित हो गई। थनरा गांव में आदर्श गौशाला का निर्माण वर्ष 2021 में कराया गया था। इसके बाद फरवरी 2021 में गौशाला को गौवंश के लिए खोला गया था। इस गौशाला को चलाने की जिम्मेदारी हरदौल बुंदेला समूह की महिलाओं की दी गई थी। तभी से यह समूह गौशाला में गौवंश की देखरेख करने लगा था।

पहले समझे कितना मिलता है पैसा

सरकार नीति के अनुसार गौशाला में प्रति गाय के हिसाब सरकार 15 रुपए खर्च करती है। गौशाला में खर्च की जाने वाली राशि जनपद पंचायत की ओर स्वीकृत करके ग्राम पंचायत के खाते में डाली जाती है। इसके बाद पंचायत इस राशि को गौशाला समिति के खाते में डालता है।

थनरा ग्राम पंचायत की गौशाला में हुआ भ्रष्टाचार

थनरा गांव के ग्रामीणों ने गौशाला में हो रही गाय की मौत का मामला पुरजोर तरीके से उठाया और इसकी शिकायत दर्ज कराई। ग्रामीण महेश कुमार शर्मा का कहना है कि इस गौशाला में 70-80 गोवंश है, जिनमें से 5 गौवंश की मौत हुई है इससे पहले भी इस गौशाला में गौवंश की मौत होती रहती है। कई बार शिकायत के बाद आज जनपद पंचायत करैरा के सीईओ ने गौशाला का निरीक्षण किया है।

समिति बना रहेगा संचालन ग्रामीण करेंगे सहयोग

आज थनरा गांव पहुंचकर जनपद पंचायत सीईओ ब्रमेंद्र गुप्ता ने ग्रामीणों के साथ बैठकर एक समिति बनाए जाने का फैसला लिया है। इसमें ग्रामीणों के सहयोग से गौशाला संचालन करने की सूची बनाई गई है। बैठक के बाद गांव के कई ग्रामीणों द्वारा चारा भी दान दिया है।