Shivpuri News- एक्यूप्रेशर से स्वास्थ्य और रोजगार की संभावनाएं विषय पर वर्कशॉप आयोजित

शिवपुरी।
शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय शिवपुरी मे आज बुधवार को अर्थशास्त्र एवं वाणिज्य विभाग द्वारा एक्यूप्रेशर से स्वास्थ्य और रोजगार की संभावना विषय पर एक दिवसीय वर्कशॉप का आयोजन किया गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के महत्वाकांक्षी प्रोग्राम एवं स्वरोजगार के संबंध में स्टार्टअप योजना के अंतर्गत महाविद्यालय शिवपुरी में कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

इस वर्कशॉप में ग्वालियर से अमूल्या हर्ब की तरफ से डायमंड डायरेक्टर अरुण प्रताप सिंहए स्टार मैनेजर जितेंद्र कौशल शिवपुरी में संचालित वेलनेस सेंटर के संचालक एवं मैनेजर भरत शीतल और दिनेश सिंह दांगी उपस्थित हुए।

अमूल्य हर्ब के डायरेक्टर अरुण प्रताप सिंह ने बड़ी ही बारीकी से उपस्थित छात्र.छात्राओं एवं फैकल्टी को एक्यूप्रेशर के महत्व के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि यह पद्धति अत्यंत प्राचीन है एवं भारत की धरोहर है जिसमें हम कम से कम खर्चे में व्यक्ति को स्वस्थ रहना सिखाते हैं एवं किसी भी विषम परिस्थिति में हम किस प्रकार से उनकी मदद कर सकते हैं यह भी सिखाया जाता है।

हमारे शरीर के किसी भी अंग में दर्द या परेशानी होना और उसकी निवारण के लिए विभिन्न पॉइंट्स के बारे में समझा दी। उन्होंने समझाया कि हमारे हाथ की हथेलियों उंगलियों पैरों के तलवों में स्थित विभिन्न पॉइंट्स को दबाकर हम बीमारी का इलाज कर सकते हैं। शहर की विवेकानंदपुरम कॉलोनी में एक वेलनेस सेंटर का शुभारंभ भरत शीतल द्वारा किया गया है जहां पर जरूरतमंद व्यक्ति लाभ प्राप्त कर सकते हैं और अपने दर्द से एक्यूप्रेशर के माध्यम से छुटकारा पा सकते हैं।

उक्त चिकित्सा पद्धति न्यूनतम व्यय पर उपलब्ध है। कार्यक्रम के दौरान डॉण्गुप्ता द्वारा उपस्थित छात्र.छात्राओं को स्टार्टअप के महत्व के बारे में समझाया कि किस प्रकार से हम अपना उद्योग या स्वरोजगार के माध्यम से आगे बढ़ सकते हैं।

इस कार्यक्रम में महाविद्यालय की जनभागीदारी समिति के अध्यक्ष अमित भार्गव, महाविद्यालय के प्राचार्य प्रोफ़ेसर महेंद्र कुमार, वरिष्ठ प्राध्यापक डॉ.यू.सी.गुप्ता, प्रोफेसर वीरेंद्र कौशल, प्रोफ़ेसर पवन श्रीवास्तव प्रोफेसर, मधुलता जैन, प्रोफेसर मंजू वर्मा, प्रोफेसर हरीश, डॉक्टर राकेश शाक्य, डॉक्टर अंजुम खान, डॉ साधना रघुवंशी एवं 100 से अधिक छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे।