PM MODI के दौरे में खर्च हो गया सड़कों के गड्ढों का बजट, नए वित्तीय वर्ष तक झेलने पड़ेंगे- Shivpuri News

शिवपुरी। शिवपुरी स्टेट हाईवे.51 पर शिवपुरी जिले की सीमा में जगह.जगह उखड़ने से गड्ढे हो गए हैं। टोल कंपनी इन्हीं गड्ढों से होकर निकलने वाले के लिए भारी वाहनों से टोल तो वसूल रही है लेकिन मेंटेनेंस नहीं करा रही।

कंपनी का दावा है कि कूनो नेशनल पार्क में चीते छोड़ने के लिए अाए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के श्योपुर दौरे के चलते गोरस-शिवपुरी स्टेट हाइवे.51ए के मेंटेनेंस का पूरे साल का बजट श्योपुर जिले की सीमा में ही खर्च कर दिया गया है।

ऐसे में अगले वित्तीय वर्ष में ही शिवपुरी जिले की सीमा में मेंटेनेंस किया जाएगा। वहीं खराब सड़क का टोल वसूले जाने से लोगों में नाराजगी है। साथ ही ज्यादा ट्रैफिक रहने से कार से लेकर बाइक सवार गड्‌ढों के कारण परेशान हैं।

मप्र सड़क विकास निगम (एमपीआरडीसी) ने अलग से बजट की कमी के चलते श्योपुर(गोरस)- शिवपुरी स्टेट हाइवे-51ए दस साल तक के लिए ऑपरेशन मेंटेनेंस ट्रांसफर (ओएमटी) पर आरएमएन टोल-वेज को दे दिया है। कंपनी मार्च 2022 से श्याेपुर के गोरस और शिवपुरी के सिरसौद के पास टोल प्लाजा लगाकर वाहनों से टोल वसूल रही है। टोल वसूलने से पहले मेंटेनेंस नहीं कराया। प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी के 17 सितंबर 2022 को श्योपुर के कूनो पार्क दौरे के चलते कंपनी ने एक साल काक पूरा बजट श्याेपुर जिले की सीमा में स्थित सड़क के पुन: डामरीकरण पर खर्च कर दिया है।

अब शिवपुरी जिले की सीमा में बदहाल सड़क के लिए कंपनी के पास बजट नहीं है। कंपनी शिवपुरी की सीमा में पुन: डामरीकरण के लिए मार्च 2023 के बाद डामरीकरण की बात कह रही है।

स्टेट हाइवे की कुल लंबाई 85.4 किमी, इसमें आधा हिस्सा शिवपुरी जिले में

एमपीआरडीसी के चंबल डिवीजन के तहत श्योपुर के गोरस से शिवपुरी शहर के पोहरी बायपास चौराहे तक 85.4 किमी लंबा स्टेट हाइवे है। इसमें सड़क का लगभग आधा हिस्सा शिवपुरी और आधा हिस्सा श्योपुर जिले की सीमा में शामिल है। प्रधानमंत्री के दौरे की वजह से आनन फानन में सारा बजट श्योपुर जिले की सीमा में खर्च कर दिया है, जिसका खामियाजा शिवपुरी जिले की जनता को उठाना पड़ रहा है।

श्योपुर में ज्यादा पैसा खर्च हो गया

"श्योपुर जिले में पुन: डामरीकरण पर तय बजट से ज्यादा पैसा खर्च हो गया है। शिवपुरी जिले की सीमा में फिलहाल डामरीकरण नहीं हो पाएगा। मार्च 2023 के बाद यहां डामरीकरण करा पाएंगे।''
-कृष्णा बंसल , प्रभारी, आरएमएन टोलवेज

शिवपुरी में गड्‌ढे पैचवर्क कराकर भरवा रहे

"ओएमटी प्रोजेक्ट के तहत टोल कंपनी द्वारा हर साल 20% डामरीकरण कराया जाना है। इस साल श्योपुर में जिले की सीमा में कंपनी ने काम करा दिया है। हालांकि शिवपुरी जिले की सीमा में गड्‌ढे भरवा रहे हैं।" - बालचंद्र टेंटवाल, डिवीजनल मैनेजर, एमपीआरडीसी, चंबल संभाग

लगातार बारिश होने से पेंच रिपेयर लायक भी नहीं बची सड़क

स्टेट हाइवे के अंतिम छोर पोहरी बायपास चौराहे पर सड़क का टुकड़ा बुरी तरह उखड़ा पड़ा था, जिससे कंपनी ने ठीक करा दिया है लेकिन ज्यादा बारिश होने की वजह से सिंहनिवास गांव से आगे और पोहरी तक सड़क इतनी उखड़ी हुई है कि पेंच रिपेयर भी मुमकिन नहीं हो पाएगा। हालांकि अधिकारी पैचवर्क कराने की बात कह रहे हैं। पुन: डामरीकरण होने पर ही सड़क ठीक से चलने लायक बन पाएगी। ग्वलियर दौरे के वक्त केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने श्योपुर के गोरस से शिवपुरी तक स्टेट हाइवे को राष्ट्रीय राजमार्ग घोषित करने की बात कही थी। आने वाले सालों में यह सड़क 7 मीटर से 10 मीटर चौड़ी बन जाएगी।