कोटा नाका में दूज पर पत्नी सहित आया दामाद की मौत, बीमार था अस्पताल नहीं ले गए- kolaras News

कोलारस।
खबर जिले के कोलारस अनुविभाग के तेंदुआ थाने में सीमा में आने वाले कोटा नाका गांव में अपनी सुसराल में आए दामाद की संदिग्ध मौत हो गई। युवक के परिजनों ने हत्या की आशंका जताते हुए,तेंदुआ थाने में शिकायत दर्ज कराई हैं। पुलिस ने युवक की डेड बॉडी का पीएम कराते हुए इस मामले की जांच शुरू कर दी हैं।

पत्नी सहित दूज मनाने आया था सुसराल

राजस्थान के शाहाबाद तहसील के अतवारी गांव के रहने वाला मिथुन आदिवासी अपनी ससुराल कोट नाका अपनी पत्नी और बच्चे के साथ दूज का त्यौहार मनाने आया हुआ था। तभी से वह अपनी ससुराल में रुका हुआ था। आज सुबह मिथुन को उल्टियां होने लगी इसके कुछ देर बाद उसकी मौत हो गई।

युवक की मौ की सूचना के बाद परिजन कोटा नाका गांव पहुंचे। परिजनों का आरोप है कि मिथुन को उल्टियां होने के बाद इलाज के लिए अस्पताल नहीं ले जाया गया जिसके कारण उसने दम तोड़ दिया। परिजनों ने इसकी शिकायत तेंदुआ थाना में दर्ज कराई है।

एक साल पहले की थी दूसरी शादी

मृतक मिथुन आदिवासी के भाई शिवराज आदिवासी ने बताया कि उसके भाई की पहली पत्नी की मौत कुछ साल पहले हो चुकी थी। मिथुन के पहली पत्नी से 3 बच्चे हैं जो साथ रहते थे। मिथुन ने 1 साल पहले ही दूसरी शादी कोटा नाका गांव की रहने वाली युवती से कर ली थी। मिथुन के पहली वाली पत्नी के तीन बच्चे भी है जिनको लेकर घर में काफी अनबन बनी रहती थी। दीपावली की दोज का त्योहार मनाने मिथुन अपनी ससुराल आया हुआ था। जहां उसकी मौत हो गई।

शिवराज आदिवासी ने शक जाहिर करते हुए बताया कि मिथुन के गले पर निशान देखे गए हैं जिसके चलते उन्हें मिथुन के साथ कोई अनहोनी की घटना की आशंका नजर आ रही है। इसकी शिकायत उन्होंने तेंदुआ थाने में दर्ज कराई है तेंदुआ थाना पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर मर्ग कायम कर मामले की विवेचना शुरू कर दी है।