बदरवास पब्लिक स्कूल में बच्चों ने दी विज्ञान प्रदर्शनी, लगाया बाल मेलाः बदरवास बना सौंदरीयकरण का नक्शा- Badarwas News

बदरवास।
बदरवास पब्लिक स्कूल द्वारा 14 नवंबर को बाल मेला एवं प्रदर्शनी का आयोजन किया गया कार्यक्रम में उपस्थित बीआरसीसी बदरवास अंगद सिंह तोमर उक्त उद्गार व्यक्त करते हुए कहा कि बच्चे देश का उज्जवल भविष्य है इसलिए शिक्षा में संस्कारों एवं संस्कृति का समावेश होना चाहिए।

आज के बच्चे शिक्षा तो प्राप्त कर रहे पर संस्कारों से दूर होते जा रहे हैं यदि देश के भविष्य को उज्जवल निर्माण करना है तो बच्चों को ऐसी शिक्षा दो इसमें समाज के लिए देश के प्रति समर्पण हो।चिल्ड्रन डे स्कूल बदरवास पब्लिक द्वारा अग्रवाल धर्मशाला में आयोजित विज्ञान प्रदर्शनियों में उपस्थित अतिथिगणों व कार्यक्रम में पधारे लोगों के आकर्षण का केंद्र बनी रहीं।

बच्चों ने बदरवास के सौंदरीयकरण का मॉडल भी बनाया जिसकी लोगों सराहना की। साथ ही बाल मेला में कई प्रकार की दुकानें भी सजाई गई। छात्रों द्वारा विभिन्न विज्ञान मॉडल बनाए गये जिनमें शरीर की उत्सर्जन तंत्र, पाचन तंत्र, सैटेलाइट, डेम वर्किंग मॉडल,धूम्रपान के दुष्प्रभाव, रेन वाटर हार्वेस्टिंग,इमरजेंसी पावर बैंक लाइफटाइम वर्किंग, पॉल्यूशन डीप इरिगेशन, सोलर सिस्टम, स्मार्ट विलेज, सोलर पावर सिस्टम, सोलर सेल,एसिड रैन, स्मार्ट सिटी, पवन चक्की, सेव वाटर, ग्लोबल वार्मिंग,सौर्यमण्डल, मिनी प्रोजेक्टर आदि को विज्ञान मॉडलों के रूप में प्रदर्शित किया गया।

स्कूल के संचालक रामवीर यादव तथा प्रदीप चतुर्वेदी ने बताया की हर वर्ष बच्चों का मनोबल बढ़ाने व सभी साथियों तथा अभिभावकों से मिलने के लिए यह कार्यक्रम आयोजित कराया जाता है।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में विजय कुमार यादव एस.डी.ओ.पी. कोलारस, अनिल भारद्वाज थाना प्रभारी बदरवास, एस.एस. रघुवंशी एस.आई. थाना बदरवास. अंगद सिंह तोमर बी.आर.सी. बदरवास, प्रदीप भार्गव तहसीलदार बदरवास, महेन्द्र सिंह यादव ;पूर्व विधायक, भूपेन्द्र सिंह यादव न.पा. उपा. बदरवास, रामजीलाल शर्मा एवं जगदीश कुमार शर्मा कई गणमान्य लोग उपस्थित रहे। कार्यक्रम के अंत में स्टाफ के सभी शिक्षकों ने पधारे लोगों का आभार व्यक्त किया।