शिवपुरी जिले में 05 मौतः किसान ओर युवक सहित द्रोपदी लटकी मिली फंदे पर, पहिए के नीचे आया भारत सिंह- Shivpuri News

शिवपुरी।
शिवपुरी जिले में पिछले 24 घंटे में 5 मौत होने की खबर आ रही हैं। यह सभी मौते करैरा अनुविभाग की सीमा से आ रही हैं। करैरा अनुविभाग में 02 पुरूष और 1 महिला फांसी के फंदे पर लटके मिले हैं। वही पहिए के नीचे आने से भारत सिंह की मौत हो गई। करैरा का ऑनर किलिंग में दामाद की हत्या भी करैरा अनुविभाग में हुई। करैरा अनुविभग पुलिस के शनिबार का शनि भारी रहा हैं इतने सारे मामले के साथ लूट की घटना भी करैरा पुलिस के खाते में जुडी हैं।

दिनारा थाना क्षेत्र, गुजरात से लौटा युवक लटका मिली

जिले दिनारा थाना क्षेत्र में आने वाले गांव जरगुंवा निवासी विकास उम्र 22 साल पुत्र गणेश, वंशकार कई सालों से गुजरात के जामनगर में रहकर किसी फैक्ट्री में काम करता था। दीपावली की छुट्टियों पर वह अपने घर जरगुंवा आया था लेकिन बीती रात उसने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली।

परिजनों ने जब विकास को फंदे पर लटका देखा तो उसको नीचे उतारा और अस्पताल लेकर पहुंचे। यहां पर श्डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने शव का पीएम कराकर मामले की पड़ताल शुरू कर दी है।

करैरा के हाथरस गांव मे किसान लटका मिला नीम के पेड पर

करैरा थाना सीमा में आने वाले ग्राम हाथरस के रहने वाले मृतक किसान के भाई महेश लोधी पुत्र बाघराज लोधी ने बताया कि उसका भाई अतर सिंह लोधी उम्र 45 साल पुत्र बाघराज लोधी बीते रात घर से खाना खाकर अपने पोला पाठा वाले खेत की कहकर निकला था।

सुबह 7 बजे उसे सुरेंद्र लोधी ने फोन पर बताया कि पोला पाठा वाले खेत पर नीम के पेड़ पर एक आदमी का शव लटका हुआ है। मौके पर पहुंचकर जाकर देखा तो पेड़ पर फांसी के फंदे पर लटका हुआ शव उसके भाई महेश लोधी का था।

अतर सिंह लोधी ने रस्सी और अपनी साफी की मदद से नीम के पेड़ से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना के बाद मौके पर पहुंची करैरा थाना पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है।

दिनारा में द्रोपदी

दिनारा थाना सीमा में आने वाले गांव अलगी से आ रही हैं। जहां पूर्व सरपंच के भाई अनिल उर्फ अन्नी जाटव की पत्नि द्रोपदी ने शाम करीब 6 बजे अपने ही घर पर फांसी के फंदे पर लटकी मिली। सूचना मिलते ही दिनारा पुलिस मौके पर पहुंची और शव को फंदे से उतारकर पीएम के लिए भेज दिया।

पहिए के नीचे आया भारत सिंह,चालक पर मामला दर्ज

करैरा अनुविभाग के सीहौर थाना क्षेत्र में तेज रफ्तार ट्रैक्टर से गिरा व्यक्ति पहिए के नीचे आ गया और हादसे में घायल होने के बाद दम तोड़ दिया। पुलिस ने ट्रैक्टर चालक के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज कर मामला विवेचना में ले लिया है।

फरियादी राहुल उम्र 20 साल पुत्र भारत सिंह रावत निवासी धमधौली ने रिपोर्ट दर्ज कराई है कि शनिवार की शाम 5 बजे पिता भारत सिंह बहगवां से धमधौली हरभजन पंजाबी के ट्रैक्टर से घर आ रहे थे।

रास्ते में हरभजन सिंह तेजी से ट्रैक्टर चला रहा था। पिता ने ट्रैक्टर तेजी से चलाने से मना कियाए लेकिन हरभजन सिंह नहीं माना और ट्रैक्टर उसी गति से चलाता रहा। आगे हनुमंत सिंह रावत के डेरा के पास पिता भारत सिंह ट्रैक्टर से नीचे गिर गए और पहिए के नीचे आ गए। शरीर के ऊपर से पहिया निकलने से बुरी तरह घायल हो गए।

ट्रैक्टर के पीछे बाइक से आ रहे मुकेश रावत निवासी धमधौली ने कॉल करके हादसे की सूचना दी। कार से इलाज कराने भितरवार ले जाते समय घायल पिता ने रास्ते में पूरी घटना बताई। भितरवार अस्पताल पहुंचे तो डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया। सीहौर थाना पुलिस ने रविवार को केस दर्ज कर लिया है।

पिता ने ही अपनी बेटी को विधवा कर दिया

वही पिछले 24 घंटे की शिवपुरी जिले की सबसे बडी खबर भी करैरा अनुविभाग से आनर किलिग की आई थी। उक्त खबर ने जिले के सभी मीडिया संस्थानो ने अपनी जगह बनाई थी। युवक की हत्या उसके ससुराल वालो ने मिलकर कर दी थी,कारण उसने लव मैरिज की थी,यह बात ससुराल वालो को चुभ गई और देखते ही मारने का वचन लिया था।

घटना करैरा थाना क्षेत्र के मछावली गांव की है। यहां रहने वाले धीरू ;उम्र 23 साल पुत्र बृखभान जाटव का गांव की छाया पुत्री सुरेश जाटव से प्रेम प्रसंग था। इसे लेकर छाया के पिता और उसके परिवार वाले कई बार नाराजगी जता चुके थे। करीब दो साल पहले 2020 में दोनों ने कोर्ट मैरिज कर ली थी। छाया के घरवालों को इसका पता चला तो उन्होंने नाराजगी जताई। इसके बाद धीरू और छाया गुजरात के अहमदाबाद चले गए थे। दीपावली पर युवक अपने परिजनो से मिलने आया था। धीरू जब गांव में अपने साथियो के साथ लोगो से मिलने पहुंचा तो सुसराल के 7 लोगो ने मिलकर बदूंक की बटो से मारपीट कर दी,उसक गर्दन पर कुल्हाडी से बार कर दिया,जिससे उसकी घटना स्थल पर ही मौत हो गई। हत्या करने वालो में धीरू का ससुर और ताउ ससुर सहित परिवार के अन्य 5 लोग शामिल थे। पिता ने ही अपनी बेटी को विधवा कर दिया।