Shivpuri News- पूजा अग्रवाल की मौत: 3 साल की शादी में ढाई साल का बेटा कैसे हुआ, पति ने पुलिस को बताया

बैराड। शिवपुरी जिले के बैराड़ कस्बे में किराना व्यवसायी राजकुमार अग्रवाल की पत्नी पूजा अग्रवाल की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मृतिका बीती रात्रि बेहोशी की हालत में कमरे में पड़ी मिली थी। जिसकी नाक से खून निकल रहा था और गले में निशान थे। जिसे उसका पति राजकुमार अग्रवाल ग्वालियर इलाज के लिए ले गया।जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। 

बैराड़ थाना प्रभारी नवीन यादव ने जानकारी देते हुए बताया कि कस्बे में परचून की दुकान संचालित करने वाले राजकुमार अग्रवाल ने उन्हें सूचना दी कि रात में साढ़े 11 बजे जब वह दुकान से अपने घर वापस लौटा और वह हाथ पैर धोने के बाद कमरे में अंदर गया तो वहां उसकी पत्नी पूजा अग्रवाल बेहोशी की हालत में पड़ी थी। जिसकी नाक से खून बह रहा था और गले में कुछ निशान थे।

जिससे ऐसा प्रतीत हो रहा था कि उसके गले का किसी रस्सी से दबाया गया हो। बाद में वह उसे ग्वालियर ले गया। जहां डॉक्टरों ने परीक्षण के बाद उसकी पत्नी को मृत घोषित कर दिया। घटना के समय उसके माता.पिता और भाई उसके कमरे से कुछ दूरी पर स्थित दूसरे कमरे में सो रहे थे। उसका ढाई वर्ष का बेटा पूजा के साथ था, जो सो रहा था।

पुलिस ने पति सहित मृतिका के सास-ससुर और देवर के बयान भी दर्ज किए। वहीं उत्तर प्रदेश की रायबरेली में रहने वाले पूजा के माता.पिता से भी चर्चा की। उन्होंने शिवपुरी आने की बात कही है और कहा है कि जब तक वह शिवपुरी न आएं तब तक कोई कार्रवाई न की जाए। इसलिए मृतका के मायके पक्ष के लोगों के आने का इंतजार किया जा रहा है।

पति ने पत्नी के चरित्र पर लगाए लांछन
बैराड़ थाना प्रभारी नवीन यादव ने बताया कि मृतिका के पति राजकुमार अग्रवाल से पूछताछ की गई तो राजकुमार ने पूजा को चरित्रहीन बताया और कहा कि पिछले दो तीन माह से उसके घर पर उसकी अनुपस्थिति में कुछ अन्य लोगों को आना जाना होता था। उसकी पत्नी का उसके प्रति व्यवहार भी बदल गया था।

वह हमेशा झल्लाकर बात करती थी और बेटे को भी पीटती थी। वह कस्बे में राशन की दुकान संचालित करता है लेकिन उसकी पत्नी किसी अन्य लोगों से राशन का सामान मांगती थी और उससे राशन लाने के लिए भी नहीं कहती थी। जिससे उसे ऐसी शंका होने लगी कि उसकी पत्नी के कुछ अन्य गैर मर्दों से संबंध हैं।

श्री यादव का कहना है कि पूरे मामले में इस एंगल से भी जांच की जा रही है और यह पता लगाया जा रहा है कि कहीं पति ने ही तो उसके साथ कोई घटना कारित तो नहीं कर दी या फिर जिन लोगों पर उसका पति संदेह जता रहा है उन लोगों ने कोई वारदात को अंजाम तो नहीं दिया है।

विवाह तीन साल पहले हुआ लेकिन बेटा ढाई साल का

थाना प्रभारी नवीन यादव का कहना है कि राजकुमार ने उन्हें बताया कि उसका विवाह वर्ष 2019 में रायबरेली की रहने वाली पूजा से हुआ था और उसके यहां ढ़ाई वर्ष का बेटा है। श्री यादव का कहना है कि ऐसा कैसे संभव हो सकता है कि 6 माह में किसी के यहां संतान पैदा हो जाए, फिलहाल पूरा मामला संदिग्ध जान पड़ रहा है।