आदिवासी महिला की गुहार, हमें चुनाव लड़ने नहीं दे रहा है हिस्ट्रीशीटर बदमाश रामाजी राणा, जान से मारने की दे रहा है धमकी - Shivpuri News

शिवपुरी।
आज जनसुनवाई में आई एक महिला सरपंच प्रत्याशी ने अपने सामने चुनाव लड रहे दूसरे प्रत्याशी पर जान से मारने की धमकी देने और सरपंच में चुनाव प्रचार नहीं करने देने का आरोप लगाया है। महिला का आरोप है कि उक्त आरोपी हिस्ट्रीशटर बदमाश है। उसके बावजूद भी यह चुनाव में पूरी दंबगई दिखाते हुए उसे प्रताड़ित कर रहा है। इस मामले की शिकायत पीडिता ने कलेक्टर से की। जहां कलेक्टर ने मामले की जांच कराने की बात कही।

कलेक्टर को आवेदन देते हुए महिला बिसना पत्नी नेता आदिवासी निवासी ग्राम बैरसिया तह कोलारस जिला शिवपुरी ने बताया कि वह ग्राम पंचायत बैरसिया से सामान्य सीट पर सरपंच का चुनाव लड रही है। पीडिता ने बताया है कि उसके विपक्ष का उम्मीदवार दबंग पूर्व हिस्ट्रीसीटर सरपंच रामाजी राणा की पत्नी ममता राणा एंव उनके पति रामजीराणा के द्वारा मुझे चुनाव प्रचार-प्रसार करने से रोका जा रहा है।

पीडिता ने आरोप लगाते हुए बताया है कि आरोपी ने उससे कहा कि यदि तुने चुनाव में प्रचार किया तो तुझे व तेरे पमि को पूरे परिवार सहित अगवा कर जान से मार दूँगा कोई मेरा कुछ बिगाड नही सकता है जिसके कारण श्रीमान हमे चुनाव के प्रचार करने में भी जान का भय बना हुआ है। पीडिता ने आरोप लगाते हुए बताया हैॅ कि ममता राणा का पति रामजीराणा चुनाव से पहले जिला बदर की कार्यवाही हो चुकी है।

साथ ही रामजी राणा पर कई धाराओं मे संगीन केश दर्ज है। ममता राणा ने पीडिता के देवर जो कि जिला शिवपरी से 200 किलोमीटर दूर जिला श्योपुर में अपनी नोकरी कर रहा है उन पर झूटा शिकायती आरोप लगाकर विभाग को आवेदन देकर झूठा आरोप भी लगाया है। आरोपी लगातार उसके देवर को धमकी दे रहा है कि यदि तूने तेरे भाभी व भईया को चुनाव से नही रोका तो हम तेरी नोकरी खा जायेगे।

पीडिता ने गुहार लगाते हुए कलेक्टर से कहा है कि यदि ममता राणा का पति यदि ग्राम मे रहेगा तो निष्पक्ष चुनाव नहीं हो पायेगा क्योकि ममता राणा के पति के द्वारा ग्राम में गुण्डागर्दी व शराब खोरी च पैसे देकर वोट खरीदने की प्रक्रिया चालू कर दी है जिसके कारण निष्पक्ष चुनाव नहीं होगा। ममता राणा के पति के इन कार्यकलापो को देखते हुऐ गाव वालो ने प्रशासन के लिये पंचनामा दिया है।