महिला RI से अभद्रता, पटवारी को घसीटा खसरा तक फाड़ दिया: 8 लोगों पर मामला दर्ज - karera News

करैरा। करैरा तहसील के अंतर्गत आने वाले गांव कुठीलामड में किसान की जमीन का सीमांकन करने गई टीम पर दूसरे पक्ष के लोगों ने हमला कर दिया। पटवारी और महिला RI के साथ अभद्रता कर जरीब छीन ली और खसरा तक फाड़ दिया,आरआई को धमकाया और सीमाकंन नही होने दिया,बडी मुश्किल से राजस्व टीम ने भागकर जान बचाई। हमलावर इतने दबंग थे कि इन कर्मचारियों को थाने के बहार भी धमका रहे थे।

जानकारी के अनुसार आर आई प्रीति रावत उम्र 30 साल पत्नी‎ आशुतोष रावत निवासी लोकसेवा‎ केंद्र के पास करैरा 7 मई की सुबह 8‎ बजे हल्का पटवारी सुबोध तिवारी‎ और ग्राम कोटवार हुकुम सिंह परिहार‎ के संग कुठीलामड़ में जालिम पुत्र‎ जगन्नानाथ लोधी की भूिम सर्वे नंबर‎ 48, 49 का सीमांकन करने गईं थीं। ‎सीमांकन करते वक्त गांव के‎ अमरसिंह पुत्र गगुआ जाटव, विजय‎ पुत्र गगुआ जाटव, भारती पत्नी‎ विजयराम जाटव, रीना पत्नी‎ अमरसिंह जाटव, भोलाराम पुत्र‎ अमरसिंह जाटव, संजीव पुत्र‎ विजयराम जाटव, गजेंद्र, गोविंद सिंह ‎ ‎ पुत्रगण नत्थू जाटव मौके पर आए‎ और सीमांकन को लेकर विवाद करने लगे।

आरआई का कहना है कि सभी ‎लोगों ने मुझे व संग आए पटवारी को ‎गालियां दीं। पटवारी सुबोध के साथ‎ विजयराम जाटव व अमर सिंह जाटव‎ ने अपनी पत्नी की साड़ी खींचकर‎ पटवारी के गले में लपेट दी और उसे‎ जमीन पर घसीटते हुए ले जाने लगे।‎

धमकी देते हुए बोले कि यहां आए तो‎ ‎जान से मार देंगे और कहा कि आज‎ थाने जाकर इन सरकारी लोगों पर‎ हरिजन एक्ट और बलात्कार का झूठा‎ केस लगाएंगे। उक्त लोगों ने पटवारी‎ को पीटा और शासकीय कार्य में बाधा‎ पहुंचाई।‎

फिर गांव आए तो‎ जान से मार डालेंगे‎ आरआई ने रिपोर्ट में लिखवाया है कि‎ हमारी सीमांकन करने वाली जरीब‎ छीन ली और सरकारी अभिलेख‎ खसरा फाड़ दिया। लोगों ने धमकी देते‎ हुए कहा कि आगे से कभी गांव में‎ आए तो जान से मार डालेंगे। पुलिस‎ ने धारा 353, 332, 294, 506,‎ 147 के तहत केस दर्ज कर लिया है।‎

थाने में पटवारी रो पड़ा

हल्का पटवारी सुबोध तिवारी जब पुलिस को आपबीती सुना रहा था तो घटना सुनाते-सुनाते वह रोने लगा। उसका कहना था कि 20 साल की नोकरी में कभी इतने बुरे हालातों का मेने कभी सामना नही किया जो आज मेरे साथ घटित हुआ।

दबंग थाने के बाहर आकर दे गए धमकी

जब आरआइ और पटवारी थाना करैरा में आरोपितों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने आये तो दबंग आरोपित थाने के बाहर आकर धमकी देते हुए बोले कि यदि तुमने हमारी रिपोर्ट की तो महिला छेड़छाड़ ओर हरिजन एक्ट के तुमपर मामला दर्ज हम भी करा देंगे। हमारी राजनेतिक पहुंच तुम जानते नहीं हो।