बदरवास विस्फोट में गंभीर 3 घायलों की इलाज के दौरान मौत, मरने वालों की संख्या 8 तक पहुंची- Badarwas News

बदरवास। बदरवास विस्फोट में हादसे में 3 घायलों की इलाज के दौरान मौत होने की खबर आ रही हैं,इस हादसे में मरने वालो की संख्या बढ़कर 8 हो गई हैं,अभी इस हादसे में इलाज करा रहे लोगों की हालत गंभीर बनी हुई हैं,12 अप्रैल की तारीख को अब विस्फोट की तारीख में याद रखा जाएगा।

जैसा कि विदित है कि बदरवास के रिहायशी इलाके में‎ आतिशबाजी बनाने लाई गई‎ बारूद में भयानक विस्फोट में‎ पहले ही दिन मां-बेटे‎ सहित मजदूरी महिला के बेटे की‎ मौत हो चुकी थी। अगले दिन‎ महिला के दूसरे बेटे की जान‎ चली गई। 16 अप्रैल को पांचवी‎ एवं 17 अप्रैल को 12 घंटे के‎ भीतर तीन और भीतर दम तोड़‎ दिया है। रंजिता जाटव ने इंदौर में‎ इलाज के दौरान आखिरी सांस ली‎ है। हादसे में जान गंवाने वाले मां‎ और दो बेटे शामिल हैं।‎

जानकारी के मुताबिक बदरवास‎ में एसबीआई बैंक शाखा के पीछे‎ मोहम्मद हुसैन के घर 12 अप्रैल‎ की दोपहर आतिशबाजी बनाते‎ समय बारूद में हुए विस्फोट हो‎ गया था। हादसे में परिवार की‎ महिला बेवी उर्फ तबस्सुम उम्र 28 साल‎ पत्नी इमरान खान और तबस्सुम‎ की बेटी उमेरा उम्र 10 साल पुत्री इमरान‎ की घटना स्थल पर ही मौत हो गई‎ थी। जीएमसी हॉस्पिटल शिवपुरी में‎ इलाज के दौरान कल्ला उम्र 11 साल पुत्र‎ नवल जाटव ने दम तोड़ दिया था।‎

13 अप्रैल को इलाज के दौरान‎ ग्वालियर में शिवम उम्र 14 साल पुत्र‎ नवल जाटव ने दम तोड़ दिया।‎ 16 अप्रैल को इलाज के दौरान‎ फेमिना उम्र 45 साल पत्नी मोहम्मद‎ रफीक खां ने भी दम तोड़ दिया।‎ अब 17 अप्रैल की सुबह आफरीन‎ उम्र 10 साल पुत्री शाहिद और खुशी‎ उम्र 20 साल पुत्री पप्पू उर्फ मोहम्मद‎ रफीक ने दम तोड़ दिया। जबकि‎ 17 अप्रैल की शाम 7:30 बजे‎ महिला रंजीता उम्र 32 साल पत्नी नवल‎ जाटव ने भी आखिरी सांस के साथ‎ दुनिया छोड़ दी।‎