क्राईसिस मैनेजमेंट अब फिर से कोविड को लेकर प्रशासन अलर्ट मोड पर काम करें: राजे- Shivpuri News

शिवपुरी।
कोविड की तीसरी लहर में तेजी से कोरोना के केस बढ़ रहे हैं। शिवपुरी जिले में एक सप्ताह में लगातार कोविड के मामले बड़े हैं। ऐसे में सभी को सावधानी बरतने की जरूरत है। कोविड से बचाव के लिए अब फिर से प्रशासन को अलर्ट मोड पर काम करने की जरूरत है। इसमें क्राइसिस मैनेजमेंट समूह के सदस्य भी अब सक्रिय होकर अपनी भूमिका निभाएं। 

मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने क्राइसिस मैनेजमेंट समूह की बैठक में यह निर्देश दिए हैं। उन्होंने समूह के सदस्यों से सुझाव भी लिए और कहा कि कोरोना से बचाव ही हमारी प्राथमिकता है इसलिए सावधानी व सतर्कता जरूरी है।

गूगल मीट के माध्यम से शुक्रवार को बैठक आयोजित की गई, जिसमें पोहरी विधायक व लोक निर्माण विभाग राज्यमंत्री सुरेश धाकड़, कोलारस विधायक वीरेंद्र रघुवंशी, करैरा विधायक प्रागीलाल जाटव सहित समूह के अन्य सदस्य शामिल हुए। बैठक में कलेक्टर अक्षय कुमार सिंह ने तैयारियों की जानकारी दी।

बैठक में मकर संक्रांति पर जिले में विभिन्न स्थलों पर लगने वाले मेले के आयोजन को लेकर भी चर्चा हुई और निर्णय लिया गया है कि किसी भी प्रकार के मेले में जनसमूह एकत्रित नहीं होगा। स्थानीय स्तर पर भी बैठक करके और अन्य माध्यमों से प्रचार प्रसार कर यह जानकारी प्रेषित की जाए कि किसी भी प्रकार का जनसमूह एकत्रित ना हो।

मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने यह भी निर्देश दिए हैं कि क्षेत्रवार विभाजित करके नोडल अधिकारी नियुक्त कर उन्हें निगरानी और जन जागरूकता की जिम्मेदारी दी जाए। इसके अलावा भीड़भाड़ वाले इलाकों को चिन्हित करके टेस्टिंग बढ़ाई जाए।

बस स्टैंड पर ही टीम लगाएं और बाहर से आने वाली बसों की निगरानी व टेस्टिंग की जाए, जिससे बाहर से आने वाले लोगों को प्राथमिक स्तर पर ही चिन्हित कर लिया जाएगा। इसके अलावा कोविड केयर सेंटर और कंट्रोल रूम को फिर से संचालित किया जाए। कोविड केयर सेंटर में जरूरी व्यवस्थाएं भी रहे।