कॉल कर टमाटर से भरे ट्रक दिखाकर एडवांस में लिए 3 लाख: ना माल भेजा ना पैसा- Shivpuri News

शिवपुरी।
शिवपुरी, दिल्ली और नासिक के तीन व्यापारियों ने तमिलनाडु के व्यापारी नल्लामुथु मणि के साथ तीन लाख रुपए की ठगी कर ली है। तमिलनाडु के व्यापारी को ठगी का शिकार शिवपुरी के व्यापारी अंसारी ने टमाटर से भरा ट्रक वीडियो कॉल कर दिखाकर उससे टमाटर बेचने का सौदा किया और 3 लाख रुपए दिल्ली के व्यापारी आदिश कुमार जैन के खाते में जमा कराए। ठगी की इस बारदात में नासिक व्यापारी सचिन कुमार भी शामिल था।

उन्होंने खाते मेें पैसे आते ही अपने-अपने मोबाइल बंद कर लिए। बाद में जब उनके मोबाइल चालू हुए और पीड़ित व्यापारी ने उनसे टमाटर का दिया एडवांस वापिस मांगा तो वह उसे लगातार धमकियां दे रहे हंै। जिसकी शिकायत तमिलनाडु से शिवपुरी आकर दर्ज कराई है। पुलिस ने मामले में तीन आरोपियों के खिलाफ भादवि की धारा 406 और 420 के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया है।

पीड़ित व्यापारी नल्लामुथु मणी ने मोबाइल पर बातचीत करते हुए बताया कि इंडिया मार्ट कम्पनी को टमाटर सप्लाई करने का उसे कॉन्ट्रैक्ट मिला है। जिसके लिए वह देशभर से टमाटर खरीदता है। इसी दौरान उसका सम्पर्क नासिक के एक व्यापारी सचिन से हुआ। जिसने शिवपुरी के टमाटर व्यापारी अंसारी से उसका कांटेक्ट कराया। जहां अंसारी ने उसे बताया कि दिल्ली के मॉडल टाउन चाणक्यपुरी में उसका मित्र आदिश कुमार जैन रहता है। वह दिल्ली का बड़ा व्यापारी है और उसका टमाटर पूरे देश में जाता है।

ठगी का शिकार हुए व्यापारी नल्लामुथु मणी ने शिवपुरी के व्यापारी से तीन ट्रक टमाटर की डिमांड की और टमाटर का सौदा 9 लाख रूपए में तय हुआ। जिस पर शिवपुरी के व्यापारी अंसारी ने तमिलनाडु के व्यापारी से एडवांस में 3 लाख रुपए की मांग की। ठगी का शिकार व्यापारी का कहना है कि वीडियो कॉल कर उसे टमाटर से भरे ट्रक दिखाए गए थे।

इस कारण उसने विश्वास कर लिया। इसके बाद उसके व्हाट्सएप पर टमाटर के ट्रक के फोटो पहुंचाए। जिसमें उसने बताया कि एक ट्रक भर चुका है और वह एडवांस आते ही उसे रवाना कर देगा। इसके बाद अंसारी ने उसे दिल्ली के व्यापारी आदिश कुमार जैन का खाता नम्बर दिया, जिसमें उसने 3 लाख रूपए जमा कर दिए। रूपए आते ही तीनों व्यापारियों ने अपने मोबाइल बंद कर लिए।

बाद में जब उनके मोबाइल चालू हुए तो उसने उनसे 3 लाख रुपए वापिस मांगे तो दिल्ली के व्यापारी आदिश कुमार जैन और नासिक के सचिन ने उसको धमकी दी कि अगर वह रूपए वापस लेने की बात करेगा तो उसे गोली मार देंगे। कई बार उसने आरोपियों से सम्पर्क किया और शिवपुरी के उस व्यापारी अंसारी से भी वह शिवपुरी आकर मिलने की कोशिश करता रहा। लेकिन वह नहीं मिला। सिर्फ वह मोबाइल पर ही उससे बातचीत कर रहे हैं और उसे लगातार धमकियां दे रहे हंै। इसकी शिकायत उसने कोतवाली में की। इसके बाद पुलिस ने मामले की जांच कर आरोपी के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर लिया।