जिला पंचायत अध्यक्ष सहित ग्राम अलाउदी में दो दर्जन लोग डेंगू के शिकार - Shivpuri news

संजीव जाट@बदरवास। मच्छर संसार की एक ऐसा प्राणी हैं जिससे लड़ने के लिए भारत सहित विश्व के कई देशो में अलग से विभाग की रचना करनी पडी। भारत में इस विभाग को मलेरिया विभाग के नाम से जाना जाता हैं। यह विभाग स्वास्थय विभाग और नगर पालिका और नगर परिषद के साथ मिलकर काम करता हैं। जब से यह विभाग बना हैं लगातार यह मचछरो से लड रहा हैं।

लेकिन यह विभाग मचछरो से विजय प्राप्त नही कर सका हैं। शायद इस विभाग को लगता है कि मच्छर अजर अमर हैं अपना दुश्मन भी नही हैं मच्छर देवता के कारण ही अपनी रोजी रोटी चल रही हैं। इस कारण यह विभाग अपने हथियार डाल चुका हैं,और इस विभाग का देवता मच्छर लोगो को लिए यमराज का रूप धारण कर चुका है।

अब बात करते हैं वर्तमान समय में बदरवास विकास खंड में अपनी जकड ले चूके जानलेवा डेंगू की,जिला प्रशासन कई तरह के दावे कर रहा है लेकिन हालत उसके विपरित है। बदरवास खण्ड के सीएससी के अंतर्गत आने वाले आधा दर्जन गांवो में हालात खराब हैं,क्यो कि इन गांवो में निवास करने वाले कई लोगो को बुखार आकर प्लेलेट्स कम होने की खबरे आ रही हैं कई लोग दम तोड चुके हैं।

बदरवास में जहां विगत सात दिन पूर्व बहादुरा के सतीश यादव की पत्नी पप्पी की दिल्ली एव पटवारी गिर्राज हिन्दोलिया की चोटी वहन जुली की प्लेलेट्स कम होने से म्रत्यु हो चुकी है बिभाग फिर भी नही जागा

वर्तमान में ग्राम अलाउदी में भी गंभीर हालत बने हुए है इस गाव में एक दर्जन से ज्यादा ग्रामीणों की प्लेलेट्स कम होनी की शिकायत है जिनमे दो लोगो की मौत भी हो चुकी है वही गाव में निवासरत जिला पंचायत अध्यक्ष कमला बैजनाथ सिंह यादव जिनको बिगत 15 दिन पूर्व मामूली बुखार आया और उपचार के दौरान महज 19 हजार प्लेलेट्स बची तो तत्काल परिजन उपचार हेतु  हेतु दिल्ली ले गए जहां 7 दिन तक उपचार चल रहा था आरमा मिलने के बाद पुनः शिवपुरी लाए जहां अब हालात में सुधार हैं।

वही उनके पुत्र जनपद उपाध्यक्ष रामवीर सिंह यादव भी चपेट में है
इसके अलाबा भाजपा मंडल अध्यक्ष चन्द्रपाल यादव अपने भतीजे आर्यन यादव  यादव विगत 7 दिन से ग्वालियर में एडमिट हैं। वही आर्यन की 20,000 प्लेलेट्स पहुंच गई थी लेकिन समय रहते परिवार उचित उपचार हेतु ग्वालियर ले गए जहां उपचार के दौरान कल 45000 हो गई

इनकी हो चुकी है मौत
बदरवास जनपद के ग्राम अलाउदी में वर्तमान में प्लेलेट्स  के चलते दो लोगो की मौत भी हो चुकी है ममता पाल पत्नी खलग सिंह पाल को 27 अक्टूबर को मौत हो चुकी है चुकी ममता की 19 हजार रह गई थी जिससे समय पर उपचार मिल जाता और पता चलता तो यह मौत नही होती,ग्राम बामौर कला में मुन्नी बाई पत्नी खचोरा उम्र 55 वर्ष की 12 नम्बर को उनकी मौत हुई है चुकी उनकी पहिले 23 हजार प्लेलेट्स थी फिर लगातार गिरती चली गई और फिर मौत हो गई

इन लोगो की हुई हैं प्लेलेट्स कम
बदरवास जनपद के ग्राम अलाउदी में वर्तमान में दो दर्जन से ज्यादा प्लेलेट्स कम होने के मामले सामने आए है जिनकी बुखार के बाद प्लेलेट्स कम होने से एक दर्जन से ज्यादा है जिनमे प्रमुख रूप से रक्षा यादव,लोकपाल यादव,हरिपाल,हरिसिंह पुत्र भगवान सिंह यादव,अमर सिंह यादव,यशपाल यादव यह लोग है एव जिला पंचायत अध्यक्ष कमला यादव के दो पुत्र
राजवीर सिंह यादव एव जनपद उपाध्यक्ष रामवीर सिंह यादव इसकी चपेट में है

बॉक्स क्या कहते है परिजन
मेरे दादी की अचानक तवियत खराब हुई बुखार आया तो शिवपुरी चेकप कराया तो 19 हजार प्लेलेट्स बची तो हमने तत्काल दिल्ली ले गए और उपचार के दौरान 7 दीना बाद प्लेलेट्स बढ़ना प्रारम्भ हुआ है दो दिन पूर्व ही  दिल्ली से बापिस लाए है
विकास यादव जिला पंचायत अध्यक्ष का नाती

जब तक समझ पाए हम साधारण बुखार समझते रहे और जब हमारे द्धारा प्लेलेट्स की जाच कराई तो मात्र 19 हजार बची तब तक बहुत देर हो चुकी थी और उनकी म्रत्यु हो गई
मृतिका ममता पाल के पति खलग सिंह अलाउदी

बुखार आया और हम उपचार के लिए खतोरा अस्पताल और प्रायवेट डॉक्टरों के पास ले गए लेकिन लगातार प्लेलेट्स गिरना कम नही हुई तो उनकी म्रत्यु हो गई
मृतिका मुन्नी परिहार का भतीजा कल्ला परिहार बामौर कला

ध्यान नही दे रहे हैं जिम्मेदार
मेरे द्धारा जिला एव बदरवास के अधिकारियों के सज्ञान में प्लेलेट्स गिरने का मामला सज्ञान में लाया था लेकिन कोई ध्यान देने बाला नही है और अब हालात बिगड़ रहे है और कोई ध्यान अब भी नही दे रहा है
चन्द्रपाल यादव,भाजपा मण्डल अध्यक्ष बदरवास

क्या कहते है जिम्मेदार
हमारे पास जाच सुबिधा नही है और फिर हमारे पास इसकी जानकारी नही है जिले में  जाच होती है तो वही उपचार कराते है हमारे पास तो प्रायवेट जाच कराने के बाद मरीज आते है तो हमे कोई जानकारी नही है
एच व्ही शर्मा,बीएमओ बदरवास