अमोला में एक ही क्योस्क संचालक को दो बार लूटा, 3 आरोपी गिरफ्तार 1 अभी भी फरार- Shivpuri News

शिवपुरी। जिले के अमोला थाना क्षैत्र में एक ही क्योस्क संचालक से लगातार दो बार आरोपीयों ने लूट की बारदात को अंजाम दिया है। इस मामले में पुलिस ने 3 आरोपीयों को हिरासत में ले लिया है। जबकि एक आरोपी फिलहाल फरार बताया जा रहा है।

आज प्रेस बार्ता के दौरान पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल ने बताया कि 10 मई 2021 को फरियादी अमित पुत्र दामोदर लक्षकार उम्र 30 साल निवासी अमोलपठा हाल निवासी करैरा जो कि क्योस्क् बैंक का संचालक है ने थाना अमोला आकर रिपोर्ट किया कि मैं करेरा से अमोलपठा स्कूटी से जा रहा था जैसे ही मैं दांगीपुरा तिराहे के पास पहुंचा तभी कुछ अज्ञात बदमाश मोटर साइकिल से आए और मेरी स्कूटी के आगे अपनी गाड़ी लगा कर मुझे जबरदस्ती रोका और मेरे ऊपर कट्टा लगाकर मेरे पास से 190000 रुपये, पीडीएस मशीन, फिंगर प्रिंट मशीन, मोबाइल, लैपटॉप, आधार कार्ड, एटीएम कार्ड लूट कर ले गए। उक्त सूचना पर से थाना अमोला में धारा 392 ताहि 11/13 एमपीडीपीके एक्ट का पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया गया।

पुलिस अधीक्षक शिवपुरी राजेश सिंह चंदेल के निर्देशन एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रवीण भूरिया एसडीओपी करैरा जीडी शर्मा के मार्गदर्शन में एक पुलिस टीम का गठन किया गया एवं आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु मुखबिर तंत्र सक्रिय किया गया ।

मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि क्योस्क बैंक संचालक के साथ लूट करने के लिए अमोलपठा क्षेत्र के एक व्यक्ति द्वारा ग्वालियर एवं मुरैना से कुछ बदमाशों को बुलाकर लूट की घटना को अंजाम दिया है। सूचना पर से उक्त व्यक्ति की तलाश ग्राम अमोलपठा एवं आसपास के क्षेत्र में की गई परंतु आरोपी नहीं मिला।

आज थाना प्रभारी अमोला उनि. अमित चतुर्वेदी को मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई की लूट की घटना को अंजाम देने बा सभी आरोपी दांगीपुरा तिराहे के पास अमोलपठा रोड़ पर बैठे हैं, उक्त सूचना पर से थाना प्रभारी अमोला द्वारा वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया जिस पर से अति. पुलिस अधीक्षक शिवपुरी एवं एसडीओपी करैरा के मार्गदर्शन में थाना प्रभारी अमोला पुलिस टीम के साथ मुखबिर द्वारा बताये स्थान पर रवाना हुए।

वहां पहुंचकर देखा कुछ लोग बैठकर बातचीत कर रहे हैं, पुलिस टीम जैसे ही उनकी ओर बढ़ी तो आरोपीगण पुलिस को आता देख भागने लगे जिनमे से चार आरोपीयों को हमराह फोर्स की मदद से पकड़ा एवं घटना मे सामिल एक आरोपी जंगल का फायदा उठाकर भाग गया। उक्त चारों आरोपियों को थाने लाकर शख्ती से पूछताछ की तो आरोपियों द्वारा उक्त लूट की घटना क करना स्वीकार किया, आरोपियों की निशादेही पर लूटे गये माल मश्रुका मे से 21000 रुपये नगदी एक लेपटॉप, फिंगर प्रिंट मशीन, लूट के पैसों से खरीदा गया एक मोबाइल बरामद किया। उक्त आरोपियों के विरुद्ध मुरैना, ग्वालियर, दतिया, गुना मे भी पूर्व से अपराध पंजीबद्ध हैं।

उक्त कार्यवाही में थाना प्रभारी अमोला अमित चतुर्वेदी, चौकी प्रभारी आमोलपठा पुनीत वाजपेयी, विवेक भट्ट, सउनि राकेश सेंगर, प्रआर. दामोदर, आर. संदीप राठौर, शिवम यादव, नागेन्द्र जाट, शिवम विश्वकर्मा, सुनील धाकड़, पवन, संजीव श्रीवास्तव, रामलक्ष्मण, रामनरेश राठौर, प्रमोद कुशवाह, नीतेन्द्र, राजपाल, अजेन्द्र परिहार, जसपाल, कुलदीप बाथम, जितेन्द्र रावत थाना दिनारा, आर चा. भीमेन्द्र की महत्वपूर्ण भूमिका रही।