बडी खबर: तालाब को लेकर प्रशासन ने मनियर कॉलोनी को तीन घंटे में खाली करने का दिया अल्टीमेटम - Shivpuri News

शिवपुरी
। आज अचानक मनियर में उस समय हडकंप मच गया जब एसडीएम अरविंद बाजपेयी ने माईक से अनांसमेंट किया कि वहां के निवासियों को तीन घंटे का समय दिया जाता है। 3 घंटे में वह पूरी कॉलोनी खाली कर दें। इस इल्टीमेंटम के बाद कॉलोनी में हंगामा मच गया।

उसके बाद प्रशासन ने तत्काल जेसीबी बुलाकर इस क्षेत्र में बने पुराने नाले पर बने एक मकान को जमींदोज कर दिया। जिसके चलते यहां लोगों की भीड़ लग गई। एसडीएम अरविंद बाजपेयी ने बताया है कि मौसम विभाग के अलर्ट के बाद यहां कार्यवाही की जा रही है। यह तालाब महज अभी 10 फिट खाली है।

एसडीएम अरविंद बायपेयी ने शिवपुरी समाचार को बताया है कि मौसम विभाग के अलर्ट के चलते उन्होंने यह कदम उठाया है। जिसके चलते मनियर बस्ती के लोगों को यह बस्ती खाली करने का अल्टीमेटम दिया गया है। यहां से बस्ती के लोगों को अस्थाई रूप से मानस भवन और होस्टल में सिप्ट किया जा रहा है।
 

परंतु यहां के रहबासी इस जगह को किसी भी स्थिति में खाली करने तैयार नहीं है। जिसे लेकर एसडीएम ने तत्काल जेसीबी बुलवाकर यहां के नाले पर बने एक मकान को जमींदोज कर दिया है। जिसपर जमींदोज हुए मकानमालिक का कहना है कि यह कार्यवाही भाजपा के कोषाध्यक्ष दिलीप मुदगल के इशारे पर चल रही है।

एसडीएम ने कहा है कि वह जल्द ही इस बस्ती को खाली करा रहे है। अगर फिर भी पब्लिक नही मानेगी तो वह जबरन प्रशासन और पुलिस की मदद से इस कॉलोनी को खाली करांएगें। यहां के निवासी सदन सिंह भदौरिया ने बताया कि यहां 1 हजार के लगभग परिवार है। जिसमें लगभग 7 हजार लोग रहते है। अब इतने लोग कहा जाएगे।


उन्होंने कहा कि इस तालाब की जो छरार है अगर वह गहरी हो जाए तो पानी आसानी से निकल जाएगा। जिससे न तो पब्लिक परेशान होगी और न ही प्रशासन। इसके साथ ही मनीयर में निवासी पूजा शर्मा ने बताया है कि तालाब में पानी भरने के बाद प्रशासन ने अब एक दम से आकर बोल दिया कि आप यह बस्ती खाली कर दो।

अब एक साथ हम छोटे छोटे बच्चों और अपने सामान को छोडकर कहा जाएगे। जैसे ही यह खबर शहर में फैली शहर में हडकंप मच गया। अब इस तालाब के पानी निकले पर पूरे शहर में हाहाकार मचना तय है। अब देखना यह है कि प्रशासन इसका क्या तरीका निकालता है।