कोरोना काल किसी का बुरा समय तो किसी का अच्छा समय,पढ़िए क्यों - Shivpuri News

शिवपुरी। कोरोना के चलते शहर सहित अंचल भर में लॉकडाउन हैं ऐसे में लोग अपने घरों पर ही है और बच्चों को भी माता पिता के साथ साथ दादा दादी का साथ भी मिल रहा है। ऐसे में कई परिवारों में बच्चे दादा दादी और माता पिता के साथ पूजा पाठ कर रहे हैं जिससे वह अपनी संस्क्रति से परिचित हो रहे हैं।

दीपाली को याद हुआ गायत्री मंत्र

शहर की महल कालोनी में रहने वाली 7 साल की दीपाली को पहले स्कूल और होमवर्क से ही छुटटी नहीं मिलती थी लेकिन कोरोना के लॉकडाउन में वह माता पिता और दादा दादी के साथ हैं ऐसे में दादी ने उसे गायऋी मंऋ सिखा दिया है और अब वह हर रोज गायऋी मंऋ का जाप कर रही है।

पीहू कर रही माता पिता के साथ पूजा पाठ

शंकर कालोनी की रहने वाली पीहू वैसे तो अपने माता पिता के साथ मंदिर जाती थी लेकिन कोरोना के चलते स्कूल की छुटटी है और अभी ऑनलाइन क्लास भी बंद है ऐसे में पीहू को उसके माता पिता पूजा पाठ सिखा रहे हैं और वह अब हर रोज एक घंटे पूजा भी करती है।

सिया को याद हुई पोयम

दो साल की सिया की टीवी देखना पसंद हैं और टीवी पर कार्टून शो में पोयम भी आ रही हैं जिसे देख्रकर बच्चे पोयल भी सीख रहे हैं। दो साल की सिया को जानी जानी यस पापा की पूरी पोयम याद हो गई है।

वेद को याद हुई टिंकल टिंकल लिटिल स्टार

दो साल के वेद को काटूर्न शो के माध्यम से उसके माता पिता पोयम सिखा रहे हैं। पहले वह मोबाइल और टीवी पर कार्टून ही देखा करता था लेकिन अब वह मोबाइल पर उसे पोयम लगाकर देते हैं जिसे वह ध्यान से सुनता है और उसे टिंकल टिंकल लिटिल स्टार वाली पूरी पोयम याद हो गई है।